ज़िन्दगी क्या है, सफ़र की बात है.

घर से दफ़्तर और दफ़्तर से घर के बीच का सफ़र नहीं, दूर किसी देश का सफ़र. हर किसी के मन में एक न एक बार ये ख़्याल ज़रूर आता है कि सब छोड़-छाड़ कर बैग उठाकर कहीं चल दें.

फिर अगले ही पल अदृश्य ज़िम्मेदारियों की बेड़ियां पैर को ज़रा और कस लेती हैं. और कुछ नहीं, मन को कुछ दिनों की शांति और सुकून तो दे ही सकते हैं.

बिना मेडिटेशन के भी मन की शांति प्राप्त करना चाहते हो तो पहुंच जाओ यहां-

1. छलाल, हिमाचल प्रदेश

Source- Traveled Globe

कसौल के पास है छलाल. कसौल से कुछ ही मिनटों की दूरी पर स्थित है छलाल, कसोल जितनी ही ख़ूबसूरती और कम गंदगी के साथ.

देवदार के पेड़ों की हरियाली चादर के बीच सारी टेंशन भूल जाओगे, पूरी गारंटी है.

2. पुरी, ओडिशा

Source- Hello Travel

भगवान जगन्नाथ का घर, पुरी. जिसे जगन्नाथ पुरी भी कहा जाता है. कहते हैं, पुरी में कहीं से भी देखो, जगन्नाथ मंदिर का गुंबद ज़रूर नज़र आता है. ये स्थान सिर्फ़ धार्मिक महत्व ही नहीं रखता. पिछले कुछ दशकों से ये हिप्पीज़ की भी पसंदीदा जगहों में शुमार हो चुका है.

3. अल्मोड़ा, उत्तराखंड

Source- Wikipedia

उत्तराखंड का कैंटोनमेंट ज़िला है अल्मोड़ा. किलमोड़े पौधे के नाम पर इस स्थान का नाम पड़ा, अल्मोड़ा. यहां कसार देवी मंदिर एक भूगर्भीय क्षेत्र (Geomagnetic Field) है. शिमला, मनाली का मोह छोड़ो और यहां हो आओ.

अल्मोड़ा के लिए और अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें-

https://hindi.scoopwhoop.com/Best-Places-To-Visit-In-Almora/

4. ज़ीरो वैली, अरुणाचल प्रदेश

Source- India Hikes

उत्तर भारत में ट्रेकिंग के कई रूट्स हैं, उन्हीं में से एक है ज़ीरो वैली. यूनेस्को की वर्ल्ड हेरिटेज साइट्स की सूची में शुमार ज़ीरो वैली जाने के लिए इनर लाइन परमिट की ज़रूरत होती है. बोले तो बिना सरकारी अनुमति के नहीं पहुंच सकते.

ज़ीरो वैली में हर साल एक अन्तर्राष्ट्रीय म्यूज़िक फ़ेस्टिवल होता है, जिसमें देश-विदेश से संगीत के दीवाने हिस्सा लेते हैं.

5. अंद्रेटा, हिमाचल प्रदेश

Source- Triphobo

मैकलॉडगंज, धर्मशाला तो हिप्पियों का गढ़ है. जैसे-जैसे ये जगहें मशहूर हुई, वैसे-वैसे यहां की प्रकृति का नाश भी हुआ. लेकिन धौलाधार पर्वतों की ख़ूबसूरती और अकेलेपन-घुमक्कड़ी का मज़ा अंद्रेटा जाकर भी लिया जा सकता है.

अगर अंदर के आर्टिस्ट को सुला दिया है, तो यहां उससे भी पर मिल जाएंगे.

6. पुष्कर, राजस्थान

Source- Triphobo

हिन्दू धर्म के लिए विशेष महत्व है पुष्कर का. देवता ब्रह्मा का एकमात्र मंदिर यहीं है. लेकिन ये स्थान सिर्फ़ धार्मिक ही नहीं है, यहां एक विश्वप्रसिद्ध पशु मेला भी आयोजित किया जाता है.

बिहड़ में कितने रंग हो सकते हैं, ये पता करने के लिए पुष्कर के पशु मेले में ज़रूर जाना.

7. हम्पी, कर्नाटक

Source- Weekend Thrill

सोलो ट्रैवलर्स को अपनी तरफ़ खींचता है हम्पी. न सिर्फ़ ट्रैवलर्स, बल्कि इतिहासकारों और भूगोल के शोधार्थियों को भी आकर्षित करता है हम्पी. यूनेस्को की वर्ल्ड हेरिटैज साइट की सूची में शुमार हम्पी अपने मंदिरों और विशालकाय पत्थरों के लिए जाना जाता है.

कहते हैं कभी ये दुनिया का सबसे विशालकाय और समृद्ध गांव था.

8. मौलिन्नोंग, मेघालय

Source- Steemit

एशिया का सबसे साफ़-सुथरा गांव है मौलिन्नोंग. बादलों के बीच से होते हुए पेड़ की जड़ों से बने पुल को पार करने तक सभी रोमांच का यहां मिल जाएंगे.

शहर की चकाचौंध और दौड़-भाग से कुछ पल चुराकर प्रकृति की गोद में बिताना हो तो मौलिन्नोंग भाग जाओ.

9. अरामबोल, गोवा

Source- Triphobo

हिप्पियों का गढ़ है गोवा. गोवा तो गोवा है जी. Commercialization और देसीपन का Perfect Combo है गोवा. सालभर गोवा में सैलानियों की बाढ़ आई होती है. अगर ज़रा शांत माहौल में कुछ पल बिताना चाहते हो, तो पहुंचो अरामबोल.

बागा बीच, अनजुना बीच तो सब जाते हैं, आप कुछ अलग कर दिखाओ.

10. बरशैनी, हिमाचल प्रदेश

Source- Twitter

पार्वती नदी और तोष के बीच बसा है बरशैनी गांव. ठंडे पानी के झरने, छोटे-छोटे कैफ़े और भरपूर हरियाली.

यहां से खीरगंगा ट्रेक पर भी जा सकते हैं.

घूमने कहीं भी चले जाओ, वापस आने की इच्छा नहीं होती. लेकिन नौकरी और पगार के लालच में लौटना पड़ता है. पर दोगुनी ताज़गी से ज़िन्दगी की चुनौतियों का सामना करने की शक्ति ज़रूर मिल जाती है.

Source- Triphobo