क्या अपने कभी सोचा है कि एक सेक्स-वर्कर कि ज़िन्दगी कैसी होती होगी? असल में उनकी ज़िन्दगी वैसी नहीं होती, जैसी फ़िल्मों में दिखाई जाती है. ये फ़ोटोग्राफ़ी प्रोजेक्ट देख कर आपको इस बात पर यकीन हो जायेगा.

Eden एक स्ट्रिपर थी, जो सेक्स वर्कर बन गयी. वो गर्मजोशी से भरी एक लड़की है. एक फ़ोटोग्राफ़ी प्रोजेक्ट के लिए Alicia Vera ने उसके साथ एक दिन बिताया, जिसके बाद उसे सेक्स वर्कर्स की ज़िन्दगी के बारे में काफ़ी कुछ जानने को मिला. बहुत जल्दी ही दोनों की दोस्ती हो गयी.

उसके साथ समय बिता कर Vera को महसूस हुआ कि उसका काम भी काफ़ी हद तक अन्य कामों जैसा ही है. उसका भी ज़्यादातर समय विज्ञापन करने में गुज़रता है. इस काम में इतना सेक्स नहीं होता, जितना कि लोग सोचते हैं. सेक्स बस उसके काम का एक हिस्सा भर है. उसके क्लाइंट केवल 10 से 15 मिनट उसके साथ गुज़रते और इसके बाद वो दोबारा Ads पोस्ट करने में लग जाती.

समय बदलने के साथ कई देशों ने सेक्स से जुड़े कामों को अपराध की श्रेणी से हटाया है. कई सेक्स वर्कर भी इसके पक्ष में रहे हैं, क्योंकि उनका मानना है कि यदि दो एडल्ट बिना किसी ज़ोर-ज़बरदस्ती के अपनी इच्छा से सेक्स करते हैं, तो इसमें कुछ भी अपराधिक नहीं है.

Vera कहती है कि उसका प्रोजेक्ट एक सेक्स वर्कर की ज़िन्दगी को नहीं, बल्कि एक लड़की की ज़िन्दगी को दिखाता है, जो खुद को तलाश रही है. वो दिखाना चाहती है कि चाहे वो एक वैश्या हो या कोई दफ़्तर जाने वाला इंसान, हम सब एक ही जैसे भावों को अनुभव करते हैं. हम में भावनाएं एक जैसी ही होती हैं.

आइये देखते हैं कैसा होता है एक वैश्या का दिन और जानते हैं कि क्या वाकयी हम सब एक जैसी ही भावनाएं महसूस करते हैं.

Eden की मां उसका माथा चूम कर उसे भरोसा दिलाती है कि चाहे वो कोई भी काम चुने, वो एक मां के तौर पर उसे हमेशा बेहद प्यार करती रहेंगी. शुरू में उन्हें उसके काम के बारे में जान कर अचंभा हुआ था, पर अब वो हर कदम पर उसके साथ हैं.

फ़िल्मों और मीडिया ने हम सबके सामने सेक्स वर्कर्स की एक अलग ही इमेज बना दी है, असल में वो इससे बहुत अलग होते हैं. Vera को भी देख कर आश्चर्य हुआ कि Eden का ज़्यादातर समय फ़ोन कॉल्स लेते हुए, Ads पोस्ट करते हुए, बोर होते हुए, पढ़ते-लिखते हुए ही बीतता है. ये काफ़ी हद तक दफ़्तर में काम करने जैसा ही है.

Eden, Lancaster के घर में अपने पुराने कमरे में अपने बचपन की गुड़ियों के साथ.

King of Prussia के होटल के कमरे में अपने नाखूनों पर नेल पेंट लगाती Eden.

Vera कहती है कि Eden भी हम सब की तरह जी रही है, सांस ले रही है और अच्छे-बुरे समय से गुज़र रही है.

आंगन के पेड़ पर सूखते Eden के कपड़े.

सेक्स वर्कर सुनते ही लोगों के दिमाग में एक गंदा अंधेरा कमरा आता है, जहां ड्रग्स है और पैसा है. मीडिया ने हमारे दिमाग में ये ही तो भरा है.

King of Prussia के एक होटल के कमरे में Eden अपने क्लाइंट के साथ समय बिताती है.

Vera कहती है कि सेक्स वर्कर्स एक तरह से बाग़ी होती हैं, ये वो करती हैं, जो समाज की नज़र में 'गन्दा' होता है. वो उन लोगों के सामने बेझिझक अपने कपड़े उतारती हैं, जिन्हें वो जानती भी नहीं हैं.

Eden पहले एक दलाल के साथ काम करती थी, लेकिन कुछ समय बाद ही उसने अकेले काम करना शुरू कर दिया. इस तरह वो किसी पर निर्भर नहीं रही और अब वो ज़्यादा खुश थी.

Eden के वीकेंड धीमे और खाली होते हैं. इस समय ज़्यादा क्लाइंट भी नहीं आते. वो कई बार अकेली अपने होटल के कमरे में बैठी रहती है.

कई बार तो ऐसा भी होता है कि बाहर के लोगों से बात करने से बचने के लिए सारा-सारा दिन होटल के कमरे में ही गुज़ार देती है.

Eden के काम का कोई तय समय भी नहीं है, इसलिए दिन में कई बार वो थोड़ी देर को सो जाती है, ताकि उसके शरीर को ज़रूरी आराम मिलता रहे. वो कभी अपना फ़ोन बंद नहीं करती, ताकि उससे कोई क्लाइंट मिस न हो जाये.

खिड़की पर बैठ कर सिगरेट के कश लेती Eden.

एक लम्बे दिन के बाद बाथ टब में रिलैक्स करती Eden.

अब Eden ये काम भी छोड़ चुकी है. अब Eden San Francisco की एक बेकरी में काम कर रही है.

अपने घर की छत पर लेट कर आसमान को ताकती एक लड़की, जिसे पता है कि शायद उसे जेल भी जाना पड़ सकता है.