बीते दिनों अमेरिका के Kansas में रहने वाले भारतीय मूल के इंजीनियर Srinivas Kuchibhotla की गोली मार कर हत्या कर दी गई थी. ट्रम्प के राष्ट्रपति बनने के बाद ये पहली Hate Crime की वारदात है, जिसमें क़ातिल Adam Purinton गोली मारते वक़्त ज़ोर-ज़ोर से चिल्ला रहा था 'Get Out Of My Country'.

इस वारदात के बाद अमेरिका में रहने वाले भारतीय समुदाय की फ़िक्र बढ़ गई है. Srinivas की पत्नी Sunayana Dumala ने एक प्रेस वार्ता में भारतीय मूल में लोगों को ऐसे हादसों के शिकार होने से बचने के लिए कई सुझाव दिए.

Sunayana के कहा कि भारतीय, अमेरिका में सार्वजनिक स्थान पर हिन्दी या कोई और भाषा का इस्तेमाल न करें. इससे वो खतरे में पड़ सकते हैं. अमेरिका में तेलुगु काफ़ी तादाद में है और ऐसा पागलपन सोशल मीडिया पर देखने को अकसर मिलता है.

Telagnana American Telugu Association (TATA) के महासचिव विक्रम जंगम ने ये कहते हुए कि किसी और चीज़ से ज़्यादा ज़रूरी जान है, भारतीय मूल ख़ासतौर से दक्षिण भारत के लोगों को कई चीज़ें करने और न करने के सुझाव दिए हैं.

तेलुगु सॉफ़्टवेयर इंजीनियर Venkat Reddy ने बताया कि वो कई साल अमेरिका में बिता चुके हैं और अभी भी अकसर वहां जाते रहते हैं. Venkat के मुताबिक तेलुगु NRI जो कैलिफोर्निया, वाशिंगटन डीसी और न्यूयॉर्क में रह रहे हैं, उनमें Hate Crime का ज़्यादा डर नहीं है.

सॉफ़्टवेयर इंजीनियर Sarath Devulapalli ने बताया किकैलिफोर्निया, वाशिंगटन डीसी और न्यूयॉर्क में भारतीय ज़्यादा संख्या में हैं और यहां अमेरिकी लोग काफ़ी दोस्ताना व्यवहार रखते हैं. ये एक दो घटनाएं हो सकती हैं, हर जगह की नहीं.  

Article Source- Hindustan Times