देश में मौजूद धार्मिक स्थलों में रोज़ाना हज़ारों लोग सिर झुकाने जाते हैं. चाहे वो वैष्णो देवी मंदिर हो, तिरुपति हो या फिर अजमेर शरीफ़ दरगाह.

अपनी मुरादें और मिन्नतें लिए देश के कोने-कोने से श्रद्धालुओं आस्था के स्थान पर पहुंचते हैं.

एक वक़्त ऐसा था जब ये जगहें थीं, लेकिन यहां तक उतने लोग नहीं पहुंच पाते थे. इसके कई कारण थे, जैसे कि आर्थिक, दुर्गम रास्ते, जानकारी का अभाव. बदलते वक़्त के साथ-साथ आस्था के समागम स्थलों के बारे में लोगों के बीच जानकारियां बढ़ी, वहां तक पहुंचना सुगम हुआ. फलस्वरूप इन स्थलों में बदलाव भी आये. किसी समय वीराने में खड़े रहने वाले श्रद्धा के ये केन्द्र आज गज़ब तौर से विकसित हो गये हैं.

हमने निकाली देश के कुछ प्रसिद्ध मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारे की पुरानी तस्वीरें. इनकी तब और आज की तस्वीरों का अंतर देखकर कोई भी आश्चर्यचकित हो जायेगा.

1. केदारनाथ

पहले-

India Divine
India Divine
India Divine

अब-

2. तिरूपति बालाजी

पहले-

Talk Pundit
Talk Pundit
Talk Pundit
Talk Pundit

अब-

India Divine

3. बद्रीनाथ

पहले-

E-Uttarakhand

अब- 

Uttarakhand Tourism

4. हर की पौड़ी

पहले-

अब-

Financial Express

5. गंगोत्री मंदिर

पहले- 

India Divine

अब- 

Jio Trip

6. मीनाक्षी अम्मन मंदिर

पहले-

Pinterest
Pinterest

अब- 

WordPress
Manithan

7. मणिकर्निका घाट, बनारस

पहले-

Columbia.edu

अब- 

Wiwigo

8. काशी विश्वनाथ मंदिर

पहले-

Twitter
Old India Photos

अब-

Daily Mail

9. श्री हरमिंदर साहिब (स्वर्ण मंदिर)

पहले-

Pinterest

अब-

Mahdi
NDTV

10. जामा मस्जिद

पहले-

Gallery.Bl.UK
Quora

अब-

IB Times

11. दक्षिणेश्वर काली मंदिर

पहले-

Old Indian Photos
Wikimedia

अब-

Wikipedia

12. महाकालेश्वर

पहले-

Regional Bhaskar

अब-

E-Dharma.in

13. अजमेर शरीफ़

पहले-

You Tube
Facebook

अब-

Wikimapia

14.  सोमनाथ मंदिर

पहले-

Twitter

अब- 

Guide Tour.in

15. वैष्णो देवी मंदिर

पहले-

Punjab Monitor

अब-

Skymet Weather

16. वैद्यनाथ धाम

पहले-

Pinterest

अब-

17. शिरडी साईं बाबा

पहले-

E-Bharat

अब-

Shirdi Sai Baba Sansthan.org

18. सिद्धिविनायक मंदिर

पहले-

Twitter

अब-

19. कामाख्या मंदिर

पहले-

अब-

Time8.in

20. सबरीमाला मंदिर

पहले-

Blogspot

अब- 

Evening Kerala

ये सूचि आपको कैसी लगी, हमें कमेंट बॉक्स में बतायें.