देश कि पहली और आखरी महिला पीएम थीं इंदिरा गांधी. 25 जून 1975 इंदिरा गांधी ने देश में इमेरजेंसी लगाकर करोड़ों नागरिकों की आज़ादी छीनने का काम किया था.


इस दिन को भारतीय इतिहास में आज़ादी के बाद का सबसे काला दिन कहा जाता है. वो दौर ऐसा था, जब सारी नागरिक स्वतंत्रताएं ख़त्म हो गई थीं. पत्रकारिता पर अंकुश लगाने की भरपूर कोशिश की जा रही थी और देश के सभी सशक्त नेताओं को जेल में डाल दिया गया था.

Source: wordpress.com

उस मंज़र को शब्दों में बयां करना थोड़ा मुश्किल है लेकिन तस्वीरों के ज़रिये आप उस वक़्त का अंदाजा भली-भांति लगा सकते हैं. ये हैं वो कुछ चुनिंदा तस्वीरें, जो आपातकाल के कटु दृश्य को आपके सामने जीवंत कर देंगी:

1. सत्ता सिर्फ़ इंदिरा गांधी के हाथों में आ गई थी.

Source: blogspot.com

2. आपातकाल की घोषणा करती तत्कालीन पीएम इंदिरा गांधी.

Source: deccanchronicle.com

3. इमरजेंसी की घोषणा के बाद प्रमुख विपक्षी नेताओं को जेल में डाल दिया गया था.

Source: blogspot.com

4. लोक नायक जयप्रकाश नारायण पर आपातकाल के दौरान लाठियां बरसाती पुलिस.

Source: twitter.com

5. तब वर्तमान पीएम नरेंद्र मोदी को भेष बदलकर रहना पड़ा था.

Source: Quora

6. बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी भी भेष बदलकर अंडर ग्राउंड हो गए थे.

Source: Twitter

7. जामा मस्जिद के पास बने घरों को Bulldozers से गिरवा दिया गया था.

Source: indianexpress.com

8. प्रेस पर सेंसरशिप लागू कर दी गई थी. ऑल इंडिया रेडियो को भी शांत करवा दिया गया था. ये दोनों ही ख़बरें पाने का महत्वपूर्ण ज़रिया थे.

Source: economydecoded

9. हिम्मत नाम के एक वीकली अंग्रेज़ी अख़बार में कुछ लोग लगातार इसका विरोध करते रहे.

Source: blogspot.com

10. सफ़दर हाशमी जैसे कलाकारों और कुछ बुद्धिजीवियों ने इंदिरा का जमकर विरोध किया था.

Source: The Hindu

11. George Fernandez की ये तस्वीर आपातकाल का सूबूत बन गई.

Source: twitter.com

12. संजय गांधी जबरन लोगों की नसबंदी करवाने पर तुले हुए थे.

Source: livemint.com

13. सुचित्रा सेन की पॉलिटिकल फ़िल्म 'आंधी' को रिलीज़ होने से रोक दिया गया था. ये आपातकाल के बाद रिलीज़ हुई थी.

Source: viresattached.com

14. फ़िल्म 'किस्सा कुर्सी का', को भी बैन कर दिया गया था.

Source: viresattached.com

15. 1977 में सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद इंदिरा गांधी इमरजेंसी हटाने को मजबूर हो गई थीं.

Source: wordpress

इन तस्वीरों को देखकर अपनी आज़ादी की क़ीमत समझ आ जाती है.