Fire Safety Tips: भारत में आग लगाने की अब तक कई भीषण घटनायें सामने आ चुकी हैं. इस दौरान जान-माल का काफ़ी नुकसान हुआ था. साल 2019 में दिल्ली के झांसी रोड स्थित अनाज मंडी इलाक़े में लगी भीषण आग ने 43 ज़िंदगियां ले लीं. साल 2019 में ही गुजरात के सूरत में एक कोचिंग सेंटर में भीषण आग लगने से 22 बच्चों की जान चली गई. इस दौरान आग इतनी भयानक थी कि बच्चे जान बचाने के लिए चौथी मंज़िल से कूद गये थे.

आग की स्थिति का सामना हमें कब करना पड़ जाये, इसके बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता है. इन हालातों में हमें फ़िजिकली और मेंटली तौर पर मज़बूत होना पड़ेगा. इसलिए आज हम आपको आग लगने की घटना से बचने के लिए कुछ ज़रूरी बातें बताने जा रहे हैं, जिन्हें अपनाकर आप आपातकालीन स्थिति में ख़ुद की और दूसरों की ज़िंदगी बचा सकते हैं.

Source: aljazeera

1- आग लगने की स्थिति में सबसे पहले फ़ायर बिग्रेड (101) और एंबुलेंस सेवा को कॉल करें. इस दौरान किसी दूसरे के भरोसे न रहें.

2- आग लगने की स्थिति में आप तुरंत इमारत के फ़ायर अलार्म को सक्रिय करें और उस जगह से जल्द से जल्द निकलने की कोशिश करें.

3- अगर आग लगने के बाद बाहर निकलने का रास्ता नहीं मिल पा रहा है तो बचाव के लिए 'आग-आग' चिल्लाएं और लोगों को सचेत करें.

Source: newsradio1310

4- अगर आग भीषण रूप ले चुकी हो और सांस लेना मुश्किल हो रहा हो तो नाक और मुंह को गीले कपड़े से ढक लें. ये कार्बन कणों को दूर करेगा और आप अच्छी तरह सांस ले सकेंगे.

5- अगर आप धुएं से भरे कमरे में फंस जाएं और बाहर निकलने का रास्ता न हो, तो दरवाज़े को बंद कर लें और सभी सुराखों को गीले तौलिये या चादरों से सील कर दें, जिससे धुआं अंदर न आ सके.

6- अगर आग किसी ऊंची इमारत में लगी हो तो भूल से भी नीचे उतरने के लिए लिफ़्ट का प्रयोग न करें. अगर आग सीढ़ियों तक न पहुंची हो तो सीढियों से उतरने की कोशिश करें.

Source: aito

7- अगर आग की लपटों से कोई व्यक्ति झुलस गया हो तो उसे ज़मीन पर न लिटाएं. उसे कंबल या किसी भारी कपड़े में लपेटने की कोशिश करें.

8- अगर आपने ऐसे कपड़े पहने हैं जिन्हें आग जल्दी पकड़ सकती है तो उतार कर फेंक दें, ऐसी स्थिति में आपकी जान बच सकती है.

9- अगर आपके कपड़ों में आग लग जाए तो भागे नहीं, इससे आग और भड़केगी. ऐसे में ज़मीन पर लेटकर रोलिंग करें.

10- समय-समय पर इमारत में लगे फ़ायर अलार्म, स्मोक डिटेक्टर, पानी के स्त्रोत, अग्निशामक की जांच करवाते रहें.

इन बातों पर गौर करें और सुरक्षित रहें.