‘एक स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ दिमाग़ का वास होता है.’ बचपन में हम सभी ने ये ज़रूर पढ़ा होगा. इस सीख का अनुसरण करके हम सब ने पढ़ाई के साथ-साथ खेल-कूद को भी अपने जीवन का हिस्सा बना लिया था. पर जैसे-जैसे ज़िन्दगी के अलग-अलग पड़ाव आते गये, खेल-कूद कहीं छूट सा गया, ख़ास कर महिलाओं या भारतीय स्त्रियों के जीवन से तो खेल-कूद एकदम गायब हो जाता है. नतीजा, बीमारियां और अनफ़िट शरीर.

सिर्फ़ महिलायें ही नहीं, बहुत से पुरुषों के साथ भी कुछ ऐसा ही होता है. समय के अभाव में खेल-कूद बीते ज़माने की बात तो हो ही जाती है, व्यायाम आदि के लिए भी वक़्त निकाल पाना मुश्किल हो जाता है. सिर्फ़ Toned Body के लिए ही फ़िट रहना ज़रूरी नहीं, अपने शरीर को बीमारी फ़्री बनाने के लिए भी फ़िट रहना ज़रूरी है.

कुछ आसान से टिप्स, ज़िन्दगी में कुछ आसान से बदलावों से आप फ़िट रह सकते हैं. तो फ़िट शरीर और अच्छे स्वास्थ्य के लिए अपनायें ये 30 टिप्स-

1) पानी को बनायें अपना जिगरी यार

आपको अगर वॉटर बॉटल साथ रखने की आदत नहीं, तो इसे अपनी ज़िन्दगी का हिस्सा बना लें. चाहें आप दफ़्तर जायें या फिर कहीं और, एक बॉटल पानी ज़रूर रखें और थोड़े-थोड़े समय पर पानी पिएं. याद रखें बैठकर और आराम से पानी पीना फ़ायदेमंद होता है. हड़बड़ी में गटग जाने की आदत छोड़ दें.

2) नाश्ते से बनायें सच्चा रिश्ता

सुबह खाया नहीं जाता… इस वाक्य को तो दिल-ओ-दिमाग़ से निकाल दें. सिर्फ़ एक कारण, रात के खाने और सुबह के नाश्ते में काफ़ी लंबा अंतराल हो जाता है. इसलिये बेहतर होगा कि आप सुबह दफ़्तर निकलने से पहले नाश्ता ज़रूर करें. हिन्दुस्तान की ज़्यादातर होम-मेकर्स की आदत होती है 12 बजे तक खाने की. बेहतर होगा अगर ये आदत बदल दी जाये.

3) दिमाग़ की कसरत भी ज़रूरी है सनम

अगर आप सोचते हैं कि सिर्फ़ शारीरिक कसरत से ही काम बन जायेगा, तो आप ज़रा ग़लत हैं जनाब. शारीरिक कसरत के साथ ही दिमाग़ी कसरत भी ज़रूरी है. कुछ Brain Games एक अच्छा तरीका है. इसके अलावा अगर आप Right-Handed हैं, तो Left हाथ से रोज़ाना काम करने की कोशिश करके भी दिमाग़ी कसरत कर सकते हैं. या फिर एक साथ दोनों हाथों से लिखने की कोशिश करके भी.

4) Gym नहीं Gum पर भी देना है ध्यान

Gum यानि की मसूड़े और दांत की फ़िटनेस का ध्यान रखना भी आपका परम कर्तव्य है. जल्दी-जल्दी में ब्रश न करने की हिदायत तो शक्तिमान ने भी दी थी.

5) Vitamin A खाने में आवत है तो बीमारी दूर जावत है

विटामिन ए और Beta Carotene से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है. इसलिये विटामिन ए युक्त खाद्य पदार्थों जैसे हरी-पीली सब्ज़ियां, डेयरी प्रोडक्ट्स का अधिक से अधिक सेवन करें

6) अंगड़ाईयां लो ज़ोर-ज़ोर से

मुन्नी का तो पता नहीं, पर अगर आप अंगड़ाईयां ले रहे हैं, तो ज़ोर की लीजिये. जहां तक हाथ-पैर खींच सकें खींचें. फिर उस Point पर 25-30 सेकेंड के लिए रुकने की कोशिश करें. इससे शरीर में Blood Circulation सही से होता है.

7) सड़क से चलिये कच्चे रास्ते या घास की ओर

अगर ट्रेडमिल, सड़क या फ़ुटपाथ पर दौड़ने में आपको परेशानी हो तो घास पर दौड़िये. बचपन की यादें ताज़ा तो होंगी ही, साथ में आप कुदरत के क़रीब भी रहेंगे.

8) सुट्टे/शराब को तलाक दे दीजिये

ट्रिपल तलाक इंसानों के लिए ग़लत है, लेकिन तंबाकू या तंबाकू युक्त चीज़ों या शराब को तलाक…तलाक…तलाक… कहने में शर्म महसूस न करें. ये तो बिल्कुल न कहें, कि फलाने चाचा बीड़ी पीकर भी 80 साल जी गये. तंबाकू या शराब की लत छोड़ना आसान नहीं. पहले कम करने की कोशिश कीजिये. फिर धीरे-धीरे हमेशा के लिए टाटा कर दीजिये.

9) अपने शरीर का नियमनासुर परीक्षण ज़रूरी है

माना कि भाग-दौड़ भरी ज़िन्दगी है. लेकिन अपने शरीर का स्वयं परीक्षण ज़रूरी है. वक़्त निकालकर अपने शरीर का अच्छे से परिक्षण करें. कोई गांठ, निशान कुछ भी संदेहजनक हो तो घर पर किसी को दिखाकर कंफ़र्म करें और तुरंत डॉक्टर के पास जायें.

10) रोते-रोते हंसना सीखो, हंसते-हंसते रोना

Reaction Gifs

हंसना जितना स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है, उतना ही रोना भी. आंसू कमज़ोरी की निशानी नहीं होते. खुलकर रो लेने से आपकी नाक भले बहने लगे पर आंखों की गंदगी भी बाहर आती है और मन सच में हल्का होता है. स्वस्थ रहने के लिए मन का हल्का होना भी ज़रूरी है.

आप ये टिप्स अपनाकर अपनी लाइफ़ में ख़ुद फ़र्क महसूस करेंगे. अगर आपको ये सूची पसंद आये, तो ज़रूर बतायें. हम ऐसे ही और लेख आपके लिए लेकर आयेंगे.