भारत में विदेशी वस्तुओं को काफ़ी तरजीह दी जाती है. कई मायनों में ये प्रोडक्ट पूरी गुणवत्ता के साथ मार्केट में उतारे भी जाते हैं. इसीलिए भारत में अधिकतर लोग 'मेड इन इंडिया' के बजाय विदेशी प्रोडक्ट को ज़्यादा तरजीह देते हैं. ऐसे कई प्रोडक्ट्स हैं जो सेहत के लिए बेहद हानिकारक माने जाते हैं. बावजूद इसके इन्हें भारत में बिना किसी रोक-टोक के बेचा और ख़रीदा जाता है. जबकि दुनिया के अन्य देशों में ये प्रोडक्ट्स पूरी तरह से प्रतिबंधित हैं.

ये भी पढ़ें- ये हैं दुनिया के ऐसे 9 प्रोडक्ट्स, जो गलत तरीके से इस्तेमाल किए जाने पर हो गए Hit

Source: postoast

चलिए जानते हैं वो कौन-कौन से प्रोडक्ट्स हैं जो भारत में धड़ल्ले से इस्तेमाल होते हैं, लेकिन विदेशों में प्रतिबंधित हैं?

1- Lifebuoy Soap

भारत में Lifebuoy Soap एक जाना पहचाना ब्रांड है, लेकिन दुनिया के कई अन्य देशों में ये बैन है. इसे त्वचा के लिए सबसे ख़तरनाक माना जाता है. कई देशों में इसका इस्तेमाल जानवरों को नहलाने में किया जाता है. लेकिन, भारत में इसे बिना रोक टोक के बेचा जाता है.

Source: postoast

2- Maruti Suzuki Alto 800 

भारत की सबसे बेहतरीन कारों में से एक Maruti Suzuki Alto 800 दुनिया के कई देशों में बैन है. सुरक्षा परीक्षणों और दिशानिर्देशों का पालन करने में असमर्थता रहने के कारण इस कार को कई देशों ने कानूनी रूप से प्रतिबंधित किया है, लेकिन भारत में ये काफ़ी सुरक्षित और लोकप्रिय है. 

Source: postoast

3- Pesticides 

भारत में इस्तेमाल होने वाले क़रीब 60 कीटनाशक (Pesticides) ऐसे हैं जो विदेशों में पूर्ण रूप से प्रतिबंधित हैं. इन कीटनाशकों को भारत में बिना किसी रोक-टोक के बेचा जाता है. ये कीटनाशक जब पौधों के संपर्क में आते हैं तो ये इंसानों के लिए हानिकारक बन जाते हैं.

4- Red Bull 

ये ड्रिंक आधिकारिक तौर पर फ्रांस और डेनमार्क में प्रतिबंधित है, जबकि लिथुआनिया में 18 वर्ष से कम उम्र के लोगों के लिए 'Red Bull' पूरी तरह से प्रतिबंधित है. इस सॉफ़्ट ड्रिंक के दुष्प्रभावों में 'हार्ट की बीमारियों', 'डिप्रेशन' और 'हाई ब्लडप्रेशर' की समस्याएं शामिल हैं, लेकिन भारत में इसे धड़ल्ले से बेचा जाता है.  

ये भी पढ़ें- घर-घर इस्तेमाल होने वाले इन 15 ब्रांड्स को भारतीय समझते हैं, तो बता दें ये देसी नहीं विदेशी हैं

5- Disprin 

भारत में चिकित्सकीय और कानूनी रूप से खतरनाक कई दवाएं बेची जाती हैं. इन्हीं ख़तरनाक दवाओं में से एक 'Disprin' भी है. भारत में इसे आमतौर पर सर्दी ज़ुकाम की रोकथाम के लिए इस्तेमाल किया जाता है. लेकिन दुनिया के अधिकतर देशों में ये प्रतिबंधित है.  

Disprin
Source: postoast

6- Unpasteurized Milk 

इस दूध में ख़तरनाक रोगाणु पाये जाते हैं. इसी लिए अमेरिका और कनाडा में Unpasteurized Milk क़ानूनी रूप से प्रतिबंधित है. इस दूध को पीने से गंभीर बीमारियां हो सकती हैं, लेकिन भारत में इसे खुलेआम बेचा जाता है. 

Unpasteurized Milk
Source: postoast

7- D-Cold Total 

भारत में D-Cold Total का इस्तेमाल सर्दी ज़ुकाम की रोकथाम के लिए किया जाता है. लेकिन चिकित्सकीय तौर इसे हानिकारक माना जाता है. इसलिए इस दवा को दुनिया के सभी देशों में प्रतिबंधित किया गया है. स्पेशलिस्ट का मानना है कि 'डी-कोल्ड टोटल' से गुर्दे की समस्या पैदा हो सकती है.

D-Cold Total
Source: postoast

8. Jelly Sweets 

अमेरिका, कनाडा और ऑस्ट्रेलिया में Jelly Sweets पूरी तरह से प्रतिबंधित हैं. कहा जाता है कि Jelly Sweets खाने से बच्चों में दम घुटने का ख़तरा बना रहता है. दुनिया के कई देशों में ऐसे मामले सामने भी आ चुके हैं. लेकिन भारत में ये Jelly आसानी से उपलब्ध होती हैं.

Jelly Sweets
Source: postoast

9- Nimulid 

ये दर्द निवारक दवाई अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा और ब्रिटेन समेत दुनिया के अन्य देशों में प्रतिबंधित है. इस दवाई के सेवन से लिवर में कई गंभीर ख़तरे हो सकते हैं. लेकिन भारत समेत कई एशियाई देशों में ये आसानी से उपलब्ध होती है. 

Nimulid
Source: postoast

10. Tata Nano 

ग्लोबल NCAP द्वारा आयोजित 'Independent Crash Test' में टाटा की ये लखटकिया कार विफल रही थी. इसका मतलब इस कार में सवार व्यक्ति अपनी जान जोखिम में डाल सकता है. इसीलिए Tata Nano को दुनिया के सभी देशों ने कानूनी रूप से प्रतिबंधित कर दिया था. लेकिन भारत में कार काफी बिकी थीं. 

Tata Nano
Source: postoast

इनके अलावा और कौन-कौन से प्रोडक्ट्स हैं?