हिंदुस्तान अपने बेहतरीन और स्वादिष्ट खान-पान के लिये दुनियाभर में लोकप्रिय है. आप दुनिया के किसी भी कोने में चले जाइये, लेकिन यहां जैसा लाजबाब भोजन कहीं नहीं मिलेगा. इसी स्वाद की वजह से कुछ रेस्टोरेंट 100 सालों से जनता के पेट और दिलों पर राज कर रहे हैं. फ़ूडी लोगों को तो हिंदुस्तान के इन रेस्टोरेंट्स की जानकारी होगी ही.

food
Source: ndtv

अब जो लोग आज़ादी से पहले के इन रेस्टोरेंट के बारे में नहीं जानते हैं. वो आज जान लें.

1. टुंडे कबाबी, लखनऊ

1905 में लखनऊ के हाजी मुराद अली द्वारा 'टुंडे कबाबी' की स्थापना की गई थी. मुराद अली बेहतरीन खाना बनाने के लिये फ़ेमस थे और अब उनके टुंडे कबाब दुनियाभर में प्रसिद्ध हैं.

Tunday Kababi, Lucknow
Source: outlookindia

2. करीम, दिल्ली

इसे 1913 में हाजी करीमुद्दीन द्वारा स्थापित किया गया था. करीम मुग़लई व्यंजनों के लिये काफ़ी लोकप्रिय है. अपने स्वाद की वजह से करीम को कई अवॉर्ड से भी नवाज़ा जा चुका है. 

karim's jama masjid
Source: thebetterindia

3. इंडियन कॉफ़ी हाउस, कोलकाता

वर्षों पुराना ये कॉफ़ी हाउस कॉलेज छात्रों के बीच काफ़ी फ़ेमस है. कहते हैं कि रवींद्रनाथ टैगोर, अमर्त्य सेन, मन्ना डे, सत्यजीत रे, रविशंकर और कई अन्य बड़ी हस्तियां यहां अकसर आते-जाते रहते थे. 

Source: TBI

4. ब्रिटानिया एंड कंपनी, मुंबई

1923 में पहली दफ़ा ब्रिटानिया ने फ़ोर्ट क्षेत्र में तैनात ब्रिटिश अधिकारियों के लिये अपने दरवाज़े खोले थे. तब से लेकर अब तक ये मुंबई का प्रसिद्ध रेस्टोरेंट बना हुआ है.    

independence
Source: thebetterindia

5. मित्र समाज, उडुपी

100 साल पुराना ये रेस्टोरेंट डोसा, बुलेट इडली और गोली बाजे के लिये जाना जाता है. उडुपी परंपरा के अनुसार यहां के भोजन में आपको लहसुन, प्याज़ या फिर मूली नहीं मिलेगी.

Resturent
Source: thebetterindia

6. ग्लेनरी, दार्जिलिंग

दार्जिलिंग का 100 वर्षीय पुराना ये रेस्टोरेंट बेकिंग और डेसर्ट के लिये स्थानीय लोगों के साथ-साथ पर्यटकों के बीच काफ़ी लोकप्रिय है. 

Food
Source: TBI

7. रैयर्स मेस, चेन्नई

1940 में श्रीनिवास राव द्वारा इसकी शुरूआत की गई थी. अगर कभी यहां जाना हुआ, तो कॉफ़ी और डोसा मिस मत करियेगा. 

Food
Source: thebetterindia

फ़ूडी लोग अपनी फ़ेवरेट जगह बताओगे?