हर साल गर्मियों की छुट्टियां पड़ते ही हमारे दिमाग में सबसे पहला नाम शिमला और मसूरी का ही आता है. मगर आपको बता दें कि इनके अलावा भी भारत में कई ऐसे हिल स्टेशंस हैं, जो अपनी ख़ूबसूरती के कारण न सिर्फ़ भारत, बल्कि दुनियाभर में फ़ेमस हैं.

आज हम आपको देशभर के 17 ऐसे हिल स्टेशंस के बारे में बताने जा रहे हैं, जो ख़ूबसूरती के मामले में शिमला, मसूरी और मनाली से ज़रा भी कम नहीं हैं.

1- कुनूर (तमिलनाडु)

Source: Taj Holidays

कुनूर तमिलनाडु में स्थित नीलगिरि की पहाड़ियों में बसा एक ख़ूबसूरत हिल स्टेशन है. कुनूर दक्षिण भारत के चुनिंदा हिल स्टेशन में से एक है. ये ख़ूबसूरत हिल स्टेशन चाय के बागानों के लिए प्रसिद्ध है. कुनूर अपने मनमोहक पहाड़ी परिदृश्यों के साथ विभिन्न जंगली फलों और पक्षी प्रजातियों के लिए भी प्रसिद्ध है. ऊटी के बाद नीलगिरी की पहाड़ियों में बसा ये दूसरा सबसे बड़ा हिल स्टेशन है.

2- घेस (उत्तराखंड)

Source: Facebook

घेस चमोली ज़िले का आख़िरी गांव माना जाता है. इसके बाद बर्फ़ से ढकी नंदा देवी की विशाल चोटियां शुरू हो जाती हैं. बेहद सीमांत इलाके में होने के बावजूद ये ख़ूबसूरत गांव असीमित जड़ी-बूटियों का घर है. इस गांव को उत्तराखंड का पहला आयुष गांव होने का गौरव भी हासिल है. रहस्यमयी 'रूपकुंड' इस गांव के पास ही स्थित है.

3- चिखलदरा (महाराष्ट्र)

Source: Outlook Traveller

महाराष्ट्र के अमरावती ज़िले में स्थित चिखलदरा एक ख़ूबसूरत हिल स्टेशन है. मौसम चाहे ठंड का हो या फिर गर्मी का चिखलदरा पर्यटकों के लिए किसी स्वर्ग से कम नहीं है. सातपुडा की पहाड़ियों के करीब चिखलदरा मेलघाट की पर्वत श्रृंखला में बसा है. मेलघाट बाघों की रिज़र्व के लिए प्रसिद्ध है. चिखलदरा जाते वक़्त आपको बाघ, भालू, हिरन, मोर जैसे कई जंगली जानवर देखने को मिल जायेंगे.

4. पोनमुडी (केरल)

Source: Kerala Tourism

पोनमुडी केरल के तिरुवनंतपुरम ज़िले में स्थित एक प्रमुख हिल स्टेशन है. केरल में दूसरी सबसे ऊंची चोटी अगस्त्य माला पोनमुडी में ही स्थित है. पोनमुडी सड़क मार्ग द्वारा त्रिवेंद्र से जुड़ा है, जिसके दोनों तरफ़ आपको मनोरम दृश्य देखने को मिलेंगे. पोनमुडी अपने ख़ूबसूरत चाय के बागानों, हरी भरी पहाड़ियों और नदियों के लिए प्रसिद्ध है. पोनमुडी के आकर्षण का मुख़्य केंद्र है गोल्डन वैली.

5- तवांग (अरुणाचल प्रदेश)

Source: Central Tibet Administration

अरुणाचल प्रदेश के उत्तर-पश्चिमी में स्थित तवांग छठे दलाई लामा 'लोबसंग ग्यात्सो' का जन्म स्थान होने के लिए प्रसिद्ध है. तवांग भारत में सबसे बड़े बौद्ध मठ के लिए भी जाना जाता है. समुद्र तल से लगभग 10,000 फ़ीट की ऊंचाई पर स्थित तवांग अपने अद्वितीय सौंदर्य से पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है. मार्च, अप्रैल, मई, जून, सितंबर और अक्टूबर के महीने में तवांग जा सकते हैं.

6- शिमोगा (कर्नाटक)

Source: My Holiday Club

धार्मिक, ऐतिहासिक और पर्यटन के लिहाज से शिमोगा कर्नाटक का प्रमुख शहर है. शिमोगा एक शहर ही नहीं, ख़ूबसूरत हिल स्टेशन भी है. ये एकमात्र ऐसी जगह है जहां सबसे ज़्यादा झरने हैं. भारत के प्रसिद्ध झरनों में से एक 'Jog Falls' शिमोगा के आकर्षण का मुख़्य केंद्र है. यहां की विशाल शिवमूर्ति भी दुनियाभर में प्रसिद्ध है.

7- धनौल्टी (उत्तराखंड)

Source: Uttarakhand Tourism

मसूरी से करीब 24 किमी दूर धनौल्टी अपनी प्राकृतिक सुंदरता के लिए प्रसिद्ध है. शहरों की दौड़-भाग वाली ज़िंदगी से दूर धनौल्टी धीरे-धीरे मसूरी की तरह ही फ़ेमस होता जा रहा है. बांज, देवदार, बुरांश, चीड़ के वृक्षों से सजे यहां के जंगल और बर्फ़ से ढके पहाड़ यहां की ख़ूबसूरती की पहचान हैं. धनौल्टी अपने मंदिरों और ट्रेकिंग के लिए भी मशहूर है.

8- यरकौड (तमिलनाडु)

Source: Wikipedia

यरकौड दक्षिण भारत के सबसे ख़ूबसूरत हिल स्टेशन में से एक है. अद्वितीय ख़ूबसूरती के कारण यरकौड को 'दक्षिण का गहना' भी कहा जाता है. ये हिल स्टेशन पूर्वी घाट की शेवरॉय पर्वत श्रृंखला की पहाड़ियों पर स्थित है. यरकौड झील के लिए प्रसिद्ध ये हिल स्टेशन घने जंगलों, पर्वत श्रृंखलाओं, कॉफ़ी के बागानों के लिए भी फ़ेमस है. एडवेंचर लवर्स के लिए ये जगह बेहद ख़ास मानी जाती है.

9- मुनस्यारी (उत्तराखंड)

Source: holidayiq

पिथौरागढ़ ज़िले में स्थित मुनस्यारी एक ख़ूबसूरत हिल स्टेशन है. मुनस्यारी को उत्तराखंड का 'मिनी कश्मीर' भी कहा जाता है. ऐसा इसलिए क्योंकि यहां की पहाड़ियां सालभर बर्फ़ से ढकी रहती हैं. सीमांत इलाका होने के चलते ये ख़ूबसूरत जगह अब भी पर्यटकों की पहुंच से दूर है. मुनस्यारी बर्फ़ से ढके पहाड़ों, ख़ूबसूरत वाटर फ़ॉल्स, ढ़ालदार हरे-भरे पहाड़ और अनेकों झील के लिए भी प्रसिद्ध है.

10- पेल्लिंग (सिक्किम)

Source: snowleopard

पेल्लिंग सिक्किम का एक छोटा सा हिल स्टेशन है जिसके बारे में लोगों को कम ही मालूम है. पेल्लिंग प्राकृतिक सौंदर्य और ऐतिहासिक वास्तुकला के लिए भी प्रसिद्ध है. न्यू जलपाईगुड़ी रेलवे स्टेशन से ट्रेन द्वारा पेल्लिंग पहुंचा जा सकता है. पेमायांग्स्ते और सांगा चोलिंग मठ इस छोटे से हिल स्टेशन के मुख़्य आकर्षण हैं.

11- तीर्थन वैली (हिमाचल प्रदेश)

Source: WanderOn

तीर्थन वैली हिमाचल प्रदेश के सबसे मनोरम स्थलों में से एक है. कुल्लू ज़िले में स्थित तीर्थन वैली आप दिल्ली से सड़क द्वारा भी जा सकते हैं. यहां पर आप रिवर क्रॉसिंग, ट्रेकिंग, फ़िशिंग और ख़ूबसूरत वाटर फ़ॉल्स का आनंद ले सकते हैं.

12- चोपता (उत्तराखंड)

Source: Uttarakhand Tourism

उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग ज़िले में स्थित छोटा से हिल स्टेशन चोपता को 'छोटा स्विट्ज़रलैंड' भी कहा जाता है. कम भीड़-भाड़ पसंद लोगों के लिए चोपता किसी जन्नत से कम नहीं है. यहां की ख़ूबसूरती ट्रेकर्स और पर्यटकों को एक सुखद अनुभव का एहसास कराती है. यहां का चोपता-तुंगनाथ-चंद्रशिला ट्रेक मार्ग काफ़ी लोकप्रिय है.

13- इडुक्की (केरल)

Source: Just Kerala

‘ख़ुदा का अपना घर’ कहा जाने वाला इडुक्की केरल का एक ख़ूबसूरत हिल स्टेशन है. केरल के वेस्टर्न घाट में स्थित ये जगह पर्यटकों के आकर्षक का मुख़्य केंद्र है. भारत की सबसे ऊंची चोटी में से एक 'अनामुडी' यहां की शान है. इडुक्की में दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा आर्क बांध भी है. इडुक्की का मंगला देवी मंदिर भी आकर्षण का मुख़्य केंद्र है.

14- हॉफ़लोंग (असम)

Source: railyatri

ये नाम आपको थोड़ा विचित्र ज़रूर लगेगा, लेकिन हॉफ़लोंग असम का एकमात्र और सबसे ख़ूबसूरत हिल स्टेशन है. हॉफ़लोंग अपने 2 लाख से ज़्यादा फूलों की प्रजाति के लिए भी जाना जाता है. अगर आपको असम के आदिवासी कल्चर और वहां के स्वादिष्ट खाने का स्वाद चखना है, तो हॉफ़लोंग से बेहतर जगह और कोई नहीं होगी. यहां आप हॉफ़लोंग झील, माईबोंग और जटिंगा विलेज की सैर भी कर सकते हैं.

15- गंगोलीहाट (उत्तराखंड)

Source: chardhamtours

गंगोलीहाट पिथौरागढ़ ज़िले में स्थित एक बेहद ही ख़ूबसूरत हिल स्टेशन है. 'पाताल भुवनेश्वर' की गुफाएं पर्यटकों के आकर्षण का मुख़्य केंद्र हैं. गंगोलीहाट देवी काली की 'हाट कालिका' शक्ति पीठ के लिए भी जाना जाता है. गंगोलीहाट से पास में ही चौकोरी और बेरीनाग जैसे अन्य हिल स्टेशन भी हैं. गंगोलीहाट से आप पंचाचुली और नंदा देवी चोटियों के दर्शन भी कर सकते हैं.

16- येलागिरी (तमिलनाडु)

Source: MakeMyTrip

येलगिरी हिल्स के नाम से मशहूर ये जगह तमिलनाडु के वेल्लोर ज़िले का प्रमुख हिल स्टेशन है. अपनी प्राकृतिक ख़ूबसूरती के चलते येलागिरी चेन्नई और बैंगलोर जैसे शहरों के लोगों का फ़ेवरेट हॉलिडे डेस्टिनेशन माना जाता है. यहां पर आप ट्रेकिंग, पैराग्लाइडिंग का लुत्फ़ भी ले सकते हैं.

17- कौसानी (उत्तराखंड)

Source: weekendthrill

कौसानी उत्तराखंड के बागेश्वर ज़िले में स्थित है. ये भारत का एक खूबसूरत पर्वतीय पर्यटक स्थल है. कौसानी की ख़ूबसूरती से प्रभावित होकर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने इसे 'भारत का स्विट्ज़रलैंड' कहा था. यहां गांधी जी का आश्रम भी है, जहां वो कुछ साल रहे भी थे. उत्तराखंड में चाय के बागान सिर्फ़ कौसानी में ही देखने को मिलेंगे.

तो दोस्तों अगर आप भी शिमला और मसूरी से ऊब गए हैं, तो इन ख़ूबसूरत जगहों के बारे में भी सोचा जा सकता है.