जितना ज़्यादा आप न्यूक्लियर फ़ैमिली की ओर बढ़ रहे हैं. वैसे-वैसे चिंताएं भी बढ़ रही हैं. क्योंकि जब आप भरे पूरे परिवार में रहते हैं तो बच्चे और घर के बाकी कामों को देखने वाले कई लोग होते हैं, जिससे चिंताएं भी कम रहती हैं. मगर जब बात न्यूक्लियर फ़ैमिली की आती है तो टेंशन बढ़ जाती है. इसमें सबसे बड़ी समस्या होती है अगर आपका कोई बेबी है, तो उसे संभालने की. क्योंकि जॉब करने वाले पेरेंट्स के लिए अपने बच्चे को छोड़कर जाना मुश्किल होता है. और आजकल के माहौल में बच्चे को मेड वगैरह के सहारे छोड़ना भी मुश्किल होता जा रहा है.

Source: maximummedia

इसलिए अगर आपको अपेन बच्चे को छोड़ना पड़ रहा है, तो इन बातों का ध्यान ज़रूर रखें.

1. बच्चे की उम्र का ध्यान रखें

Source: popularindinews

बच्चे को घर में अकेला छोड़ने पर सबसे बड़ी बात जो जाननी ज़रूरी है वो है कि उसकी उम्र. क्या वो अपनी उम्र के हिसाब से उतना समझदार है कि उसे अकेला छोड़ा जाए.

2. बिजली से सावधान

Source: gannett

घर में छोटा बच्चा होने पर बिजली के बोर्ड में टेप लगाकर रखें. ताकि अगर वो घर में अकेला हो तो भी उसे कोई नुकसान न हो.

3. रसोई की सफाई

Source: duluthnewstribune

आप वर्किंग हैं और बच्चा घर पर अकेला रहने वाला है तो आप रसोई में गैस के सारे स्विच ऑफ़ करके ही जाएं. साथ ही सिलेंडर की नॉब भी नीचे से बंद करके जाएं. अगर किचन में कुछ गर्म सामान छोड़ना है, तो उसे इतना ऊपर रखें कि आपका बच्चा उस तक पहुंच न पाएं.

4. धारदार सामान को रखें दूर

Source: onlymyhealth

घर में कैंची, चाकू, सूई जैसी धारवाली चीज़ों को बच्चे की पहुंच से दूर रखें हो सके तो इस तरह के सामान को लॉक करके रखें.

5. जानवर से सावधान

Source: newsapi

घर में पले जानवर से भी थोड़ी सावधानी रखना सिखाएं. क्योंकि जानवर का कोई भरोसा नहीं होता है. इसलिए उसे केज में बंद करके जाएं.

6. इमर्जेंसी नंबर याद कराएं

Source: pinimg

घर पर फ़ोन नम्बर की एक लिस्ट ज़रूर छोड़कर जाएं, ताकि ज़रुरत पड़ने पर आपका बच्चा आपको कॉल मिला कर हाल चाल बता सके.

7. बच्‍चों को कभी लॉक कर के न जाएं

Source: hdnux

बच्चों को लॉक करके कभी न जाएं, बल्कि उनको ये बताएं कि बेवजह बाहर नहीं जाते. दरवाज़ा खुला होने पर कम से कम बच्चे कोई परेशानी आने पर पड़ोसियों को तो बुला पाएंगे.

8. आपका बच्चा इमोशनली तैयार है या नहीं

Source: euroweeklynews

कुछ बच्चे इतने ज़्यादा पेरेंट्स से अटैच होते हैं कि उन बच्चों को अपने पेरेंट्स को छोड़ना मुश्किल हो जाता है. इस वजह से बच्चे बीमार भी पड़ जाते हैं. इसलिए अगर आपका बच्चा इमोशनली आपसे ज़्यादा अटैच है, तो उसे थोड़ी-थोड़ी देर के लिए अकेला छोड़ना शुरू करें. ताकि उसकी आदत पड़ जाए.

बच्चों से जुड़ी बातों पर हर पेरेंट्स को बहुत ध्यान देना चाहिए. इसी तरह के और आर्टिकल पढ़ने के लिए क्लिक करें.