90 के दशक के बच्चों को आज भी उनका ज़माना याद आता है. 'शक्तिमान-महाभारत' को देखने के लिए संडे का इंतज़ार करना, बिजली चले जाने पर छुपा-छुपी खेलना, स्कूल में दोस्तों के साथ ट्रंप कार्ड खेलना आदि. 

हमें भी आज उसकी याद आ गई और साथ में याद आ गया ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ के भिड़े का ‘हमारे ज़माने में’ वाला डायलॉग. जब हमें ये पता चला कि Add Gel Pen, जो कभी 15-20 रुपये का आता था वो अब 40 रुपये का हो गया है. बाप रे, इतनी महंगाई. देख रहे हैं ना कैसे सबकुछ के दाम बढ़ रहे हैं.

ये भी पढ़ें: Reynolds पेन: न दाम बदले और न क्वालिटी, कल भी 5 रुपये में मिलता था और आज भी उसकी कीमत उतनी ही है 

add gel pen
Source: Twitter

90’s में जिस किसी बच्चे के पास ये पेन होता था उसे सारे बच्चे बहुत ही कूल समझते थे. इस पेन से लिखने और इसके होने का एहसास ही बच्चों को ख़ास महसूस करवाता था. Add Gel पेन ख़रीदने के लिए लिए बच्चे अपने माता-पिता से ज़िद करने लगते थे. मतलब इस पेन को अपने कम्पास बॉक्स में रखना किसी शान से कम नहीं था बच्चों के लिए.

ये भी पढ़ें: क्या आप जानते हैं कि पेन के कैप में छेद क्यों होता है, सच में यह बुद्धिमानी है

Add Gel Pen

उस वक़्त हमारे पैरेंट्स (मिडिल क्लास) को ये फ़िज़ूल ख़र्ची लगती थी क्योंकि उसके जैसे ही दूसरे पेन सस्ते में मिल जाते थे. इस पेन के लिए रोना और किसी और के पास इसे देख ख़ैर ट्विटर पर इन दिनों उस ज़माने ने स्पेशल पेन Add Gel की चर्चा हो रही है.

किसी ने इसकी क़ीमत बता सोशल मीडिया के महारथियों की दुखती रग पर हाथ रख दिया. अब देखिए कैसे वो महंगाई का और अपनी यादों की बारात लेकर अपनी ही दुनिया में खोते हुए दिख रहे हैं:

एड जेल पेन से जुड़ा ये ट्वीट हमें इस बात का एहसास दिला गया कि हम सचमुच में बड़े (पुराने) हो रहे हैं और ‘महंगाई डायन खाए जात है’.