Aphasia Symptoms and Causes : Bruce Willis एक जाने माने अमेरिकी एक्टर हैं, जो Die Hard फ़िल्म में अपने जबरदस्त अभिनय के लिए जाने जाते हैं. लेकिन, अफ़सोस अब वो दोबारा किसी नई फ़िल्म में नज़र नहीं आएंगे. उन्होंने अपने एक्टिंग करियर से रिटायरमेंट ले लिया है. इसकी वजह है Aphasia नामक एक घातक दिमाग़ी विकार. उनके परिवार द्वारा जारी किए गए स्टेटमेंट के अनुसार, वो अफ़ेजिया से पीड़ित हैं और इसकी वजह से उन्हें कई शारीरिक समस्याओं से गुज़रना पड़ रहा है. 

इस लेख में हम विस्तार से बताएंगे कि Aphasia (वाचाघात) क्या है, अफ़ेजिया क्यों होता है और अफ़ेजिया का इलाज क्या है. पूरी जानकारी के लिए लेख में अंत तक बने रहें.  

आइये, अब विस्तार से जानते हैं Aphasia (Aphasia Symptoms and Causes) के बारें.  

Bruce wills
Source: wikipedia

क्या है अफ़ेजिया - What is Aphasia in Hindi 

Aphasia
Source: biologydictionary

Aphasia Symptoms and Causes : अफ़ेजिया एक दिमाग़ी विकार या एक भाषा विकार कहा जाता है, जो व्यक्ति के कम्युनिकेशन को प्रभावित करने का काम करता है. ये विकार पीड़ित व्यक्ति के लिए पढ़ना, लिखना और यहां तक कि वो क्या कहना चाहता है, उस क्षमता को भी प्रभावित कर सकता है. 

अफ़ेजिया होने का क्या कारण है - What Causes Aphasia in Hindi 

Brain tumor
Source: health.clevelandclinic

अफ़ेजिया होने का मुख्य कारण है, दिमाग़ के उस हिस्से का प्रभावित होना, जो भाषा को नियंत्रित करता है. वहीं, ऐसा निन्मलिखित वजहों से हो सकता है. जैसे : 

1. दिमागी चोट या इंजरी, जैसे स्ट्रोक, जो रक्त के थक्के जमने, ब्लड लिकेज़ या नस के फ़टने की वजह से दिमाग़ में ब्लड फ़्लो बाधित हो जाता है. 
2. ब्रेन ट्यमूर 
3. सिर में गोली लगना 
4. ब्रेन से जुड़ा संक्रमण 
5. मस्तिष्क संबंधी विकार जैसे अल्जाइमर 

अफ़ेजिया के प्रकार - Types of Aphasia in Hindi 

Aphasia
Source: cnet

अफ़ेजिया को चार प्रकारों में बांटा जा सकता है, जो निम्नलिखित हैं: 

1. एक्सप्रेसिव अफेजिया (Expressive Aphasia) : इसमें व्यक्ति को पता होता है कि वो क्या बोलना चाहता है, लेकिन वो अपनी बात को ठीक से बोल नहीं पाता है और न ही लिख पाता है. 
2. रिसेप्टिव अफ़ेजिया (Receptive Aphasia) : इसमें पीड़ित आवाज़ को सुन सकता है और चीज़ों को देख सकता है, लेकिन उनसे शब्द बनाने का सेंस की क्षमता वो खो बैठता है. 
3. अनोमिक अफ़ेजिया (Anomic Aphasia) : इसमें व्यक्ति को किसी वस्तु, शहर या किसी घटना के लिए सही शब्द चुनने में परेशानी होती है. 
4. ग्लोबल अफ़ेजिया (Global Aphasia) : ये अफ़ेसिया का गंभीर प्रकार है, इसमें पीड़ित न ही बो सकता है, न ही बात को समझ सकता है, न लिख और न ही पढ़ सकता है.   

अफ़ेजिया के लक्षण - Aphasia symptoms in Hindi  

language
Source: dukepersonalizedhealth

Aphasia Symptoms and Causes : अफ़ेजिया के लक्षण सामान्य से लेकर गंभीर रूप में सामने आ सकते हैं. वहीं, ये इस पर भी निर्भर करता है कि ब्रेन डैमेज कितना गंभीर है. इसके कुछ लक्षण निम्नलिखित रूप से सामने आ सकते हैं : 

1. थोड़ा बोलना या अधूरा बोलना 
2. उन वाक्यों का इस्तेमाल करना जो सामने वाला समझ न पाए 
3. उल्टा-सीधा बोलना 
4. वाक्य में शब्दों का ग़लत ऑर्डर 
5. दूसरे की बातों को समझने में दिक्कत होना 
6. लिख न पाना 
7. पढ़ न पाना  

अफ़ेजिया का निदान - Diagnosis of Aphasia in Hindi 

MRI Scan
Source: medicalnewstoday

अफ़ेजिया का निदान या जांच के लिए निम्नलिखित तरीक़े अपनाए जा सकते हैं : 

1. डॉक्टर MRI या CT स्कैन कर सकता है, ताकि दिमाग़ी चोट का पता लगाया जा सके. 
2. डॉक्टर भाषा क्षमता का टेस्ट भी कर सकता है. इसके लिए वो कुछ चीज़ों को करने के लिए बोल सकता है, कुछ सवालों के जवाब देने के लिए बोल सकता है, चीज़ों के नाम लेने बोल सकता या बातचीत कर सकता है. 3. अगर डॉक्टर को लगता है कि व्यक्ति को अफ़ेजिया है, तो वो उसके बोलने-समझने की झमता की जांच के लिए Speech Language Pathologist के पास भेज सकता है. 
4. इसके अलावा, समस्या के गंभीरता के अनुसार, भाषा संबंधी अन्य जांच भी की जा सकती है.  

अफ़ेजिया का इलाज - Treatment of Aphasia in Hindi  

speech therapy
Source: indiamart

अफ़ेजिया का इलाज इसके प्रकार और गंभीर पर निर्भर करता है. वहीं, इसके लिए निम्नलिखित तरीक़ों को इस्तेमाल में लिया जा सकता है : 

1.अफ़ेजिया के इलाज के लिए Speech Language Therapy की मदद ली जा सकती है. 
2. टॉक थेरेपी के रूप में भावनात्मक सहयोग. इसमें परिवार के सदस्यों को भी शामिल किया जाता है. 
3. कई मामलों मे Transcranial magnetic stimulation (TMS) की मदद ली जा सकती है. इमसें ब्रेन को स्टिम्युलेट यानी उत्तेजित किया जाता है.