जब भी हम पश्चिम बंगाल घूमने का प्लान बनाते हैं तो इस राज्य के ऐतिहासिक शहर कोलकाता(Kolkata) या फिर पहाड़ों पर बसे दार्जालिंग(Darjeeling) की बातें करते हैं. मगर इसका उत्तरी हिस्सा भी ख़ूबसूरत टूरिस्ट डेस्टिनेशन से भरा पड़ा है. उत्तर (North Bengal) में कुल 8 ज़िलें हैं, जिनमें से कुछ फ़ेमस हैं और कुछ नहीं. 


आज हम आपको उत्तर बंगाल की कुछ ऐसी ट्रैवल डेस्टिनेशन के बारे में बातएंगे जहां बहुत कम लोग जाते हैं, मगर ये घूमने के लिहाज़ से किसी जैकपॉट से कम नहीं. यहां अद्बभुत संस्कृति, वास्तुकला, नेचर, वाइल्ड लाइफ़ और आदिवासी गांव हैं जिन्हें आपको ज़रूर एक्सप्लोर करना चाहिए. चलिए जानते हैं इनके बारे में…

ये भी पढ़ें: ये हैं दुनिया के वो 10 फ़ेमस टूरिस्ट स्पॉट जहां जाना अब है बेईमानी. जानना चाहते हो क्यों? 

1. बिंदु 

ये पश्चिम बंगाल का सबसे आख़िरी गांव है. ये सिलीगुड़ी से 127 किमी दूर है. बिंदु अपनी इलायची के लिए पूरी दुनिया में मशहूर है. यहां जलढाका नदी बहती जिसे आस-पास शानदार जंगल हैं. यहां आप ट्रेकिंग और हाईकिंग का लुत्फ़ उठा सकते हैं. गोदक नाम के आदिवासी गांव में जाकर वहां की संस्कृति को क़रीब से देख सकते हैं. 

bindu north bengal
Source: northbengaltourism

2. रंगरून टी एस्टेट 

दार्जीलिंग से 16 किलोमीटर दूर है. इस गांव में रंगरून टी एस्टेट(Rangaroon Tea Estate) है, जिसकी चाय बहुत ही स्वादिष्ट होती है. यहां पर कई होमस्टे बने हैं जहां से दार्जीलिंग और कंचनजंगा रेंज के शानदार दृश्य दिखाई देते हैं. 

Rangaroon Tea Estate
Source: wordpress

3. रायमातंग 

बक्सा टाइगर रिजर्व के बीच बसा ये एक गांव है, ये उत्तर बंगाल के डुआर्स क्षेत्र में है. वाइल्ड लाइफ़ लवर्स यहां जंगल सफ़ारी का आनंद ले सकते हैं. यहां की पहाड़ियों में हाईकिंग कर सकते हैं. यहां कई प्रवासी पक्षी भी देखने को मिल जाते हैं.

Raimatang
Source: mytourideas

North Bengal

4. तबकोशी 

उत्तर बंगाल(North Bengal) विशाल पर्वतश्रंखलाओं, झरने, नदियों और चाय के बागानों से भरा हुआ है. यहां आप शांत वातावरण में अपने परिवार/दोस्तों के साथ सुकून के पल बिता सकते हैं. गोपालधारा चाय बागान से यहां से सिर्फ़ 8 किमी दूर है.

Tabakoshi
Source: animeshmitra

5. उदलबाड़ी 

न्यू जलपाईगुड़ी से लगभग 38 किलोमीटर दूर हिमालय की तलहटी में बसा है उदलबाड़ी. यहां पर भी बड़े-बड़े टी एस्टेट हैं. बैकुंठपुर जहां पर भगवान श्रीकृष्ण अपनी पत्नी के साथ छुपे थे यहां से 5 किलोमीटर दूर है.   

Odlabari
Source: northbengaltourism

6. झालोंग 

झालोंग जलढाका नदी के किनारे बसा है जो भारत-भूटान के बॉर्डर के नजदीक है. शहरों की आपाधापी से दूर शांत वातावरण में छुट्टी मनाने के लिए ये बेस्ट है. यहां पर कई प्रवासी पक्षियों के दर्शन भी आपको हो जाएंगे.  

Jhalong
Source: dooarstrip

7. सुंतलेखोला 

न्योरा घाटी राष्ट्रीय उद्यान के दक्षिण-पूर्व सुंतलेखोला है. यहां बहुत कम सैलानी पहुंच पाते हैं. अल्पाइन के जंगलों से घिरे इस क्षेत्र में आप ट्रेकिंग का आनंद ले सकते हैं. यहां पर पर्यटकों के लिए कई सरकारी गेस्ट हाउस बने हैं. 

Suntalekhola
Source: beyotee

8. मोंगपोंग 

तीस्ता नदी के किनारे बसा मोंगपोंग नॉर्थ बंगाल में घूमने के लिए एक शानदार टूरिस्ट प्लेस है. यहां पर्यटक पिकनिक मनाने यहां की ख़ूबसूरती को निहारने आते हैं. यहां से कंचनजंगा पर्वत के मंत्रमुग्ध कर देने वाले सुंदर दृश्य दिखाई देते हैं. यहां जाएंगे तो आपका मन यहां बार-बार आने का करने लगेगा. 

Mongpong
Source: kanchenjungaholidays

अगली बार पश्चिम बंगाल जाने का प्लान बनाओ तो इन टूरिस्ट प्लेस को उसमें ज़रूर शामिल करना.