बर्फ़ से ढंकी हंसी वादियां, खुला और नीला आसमान और झील के किनारे आप इस मनोहर दृश्य का लुफ़्त उठाते हुए कुछ ऐसा ही नज़ारा आंखों के सामने आता होगा न जब हम कश्मीर की बात करते हैं.  

जितना सुकून कश्मीर आंखों और रूह को देता है उतने ही लज़ीज़ वहां के पकवान है. फिर चाहें मटन रोगन जोश हो या कश्मीरी साग. मगर क्या आप जानते हैं कि कश्मीर के ड्रिंक्स भी उतने ही ख़ास और लज़ीज़ हैं? आइए, देखते हैं.  

1. कहवा  

kahwa
Source: whiskaffair

पारंपरिक कश्मीरी कहवा, कश्मीरी हरी चाय की पत्तियों के साथ दालचीनी, इलायची, केसर के मिश्रण से बनती है जिसे पीतल की केतली में बनाया जाता है. इन सबके अलावा इसमें सूखे मेवे जैसे कि चेरी, किशमिश, पाइन नट्स, पिस्ता, बादाम, सूखे खुबानी या खजूर भी डाला जाता है.  

2. शीर चाय 

sheer chai
Source: passionevegano

यह कश्मीर की पारंपरिक चाय में से एक है. इसका रंग गुलाबी होता है जिस कारण इसे गुलाबी चाय भी कहते हैं. इस चाय को कश्मीरी चाय पत्ती, बादाम, पिस्ताम, केसर डाल कर बनाई जाती है.  

3. कंध शर्बत  

babriyol
Source: curlytales

रमज़ान के पवित्र महीने के दौरान कश्मीर में कंध शर्बत बनता है. यह पय इफ़्तार की ख़ूबसूरती बढ़ाता है. तुलसी के बीज, किशमिश और इलायची के साथ तैयार इस पेय से कई स्वास्थ्य लाभ भी हैं. यह सूजन, कोलेस्ट्रॉल को कम करने और हृदय को स्वस्थ रखने में मदद करता है.  

4. केसर दूध  

kesar milk
Source: healthshots

केसर के उत्पादन के लिए कश्मीर बेहद लोकप्रिय है. गरमा गरम दूध में थोड़ा सा केसर डालें जो दूध को ने केवल ज़्यादा स्वादिष्ट बल्कि आपकी सेहत को भी फ़ायदा देगी. 

5. कश्मीरी लस्सी 

kashmiri lassi
Source: bangaloremirror

आपको क्या लगा था कि सिर्फ़ पंजाब में ही लस्सी लोगों को प्रिय है? कश्मीर में भी खाने के बाद ठंडी-ठंडी लस्सी लोगों को बहुत पसंद है. पुदीने की पत्तियां, दही और जीरा पाउडर से बनी लस्सी आपके पाचन के लिए भी बहुत सही होती है.