भारत विविधताओं से भरा है. एक चीज़ जो देशभर में कॉमन मिलती है, वो हैं यहां के लोगों का त्यौहारों को लेकर जोश. पूरे देश में अलग-अलग त्यौहार मनाए जाते हैं. हालांकि, मकर संक्रांति एक ऐसा त्यौहार है, जिसे देशभर में अलग-अलग नामों से मनाया जाता है.

अब भारतीय त्यौहार हो और बेहतरीन व्यंजन न हो, ऐसा तो संभव नहीं है. तो फिर आइए जानते हैं मकर संक्रांति पर देशभर में बनने वाली अलग-अलग स्पेशल डिशेज़ के बारे में.

1. अप्पालू

ये एक साउथ इंडियन डिश है. आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के लोग इस स्वीट डिश को गेंहू और चावल के आटे के साथ गुड़ मिलाकर तैयार करते हैं. तेल में फ्राई कर क्रिस्पी स्वीट डिश बनाई जाती है. भगवान को भोग लगाने के बाद ही इसे खाया जाता है.  

2. तिलवा

तिलवा या तिल के लड्डू भी बिहार-झारखंड की ख़ासियत है. गजक की तरह इसे भी भूने हुए सफ़ेद या काले तिल और गुड़ के अच्छे से मिलाकर तैयार किया जाता है. फिर इसके छोटे-छोटे लड्डू बनाए जाते हैं.

3. रामदाने के लड्डू

बिहार का एक अन्य डिश रामदाने के लड्डू को पके हुए रामदाना या राजगिरा, काजू, किशमिश और पिसी हुई हरी इलायची के दानों को पिघला हुआ गुड़ के साथ मिलाकर तैयार किया जाता है. फिर इसके लड्डू बनाए जाते हैं.

4. उन्धीयू

ये डिश गुजरात की विशेषता है और सर्दियों के मौसम में बनाई जाती है. इसे मकर संक्रांति पर ख़ासतौर पर बनाया जाता है. उन्धीयू में मौसमी सब्जियां जैसे सुदती पापड़ी, याम, बैंग, कच्चा केला वगैरह को मिक्स कर एक गहरे बर्तन में सब्जी के तरह बनाया जाता है और फिर इसे पूरी या बाजरे की रोटी के साथ खाया जाता है.

5. Ellu Bella

Ellu Bella कर्नाटक की एक डिश है, जो तिल, मूंगफली, कटा हुआ नारियल और गुड़ को मिलाकर तैयार की जाती है. फिर इसे मिश्री के दानों और गन्ने के टुकड़े के साथ परोसा जाता है.  

6. Ghughute

उत्तराखंड में संक्रांति के दिन ये ख़ास डिश बनाई जाती है. इसे आटे और गुड़ के मिश्रण के साथ मिलाकर अनार के फूल, चाकू, लंबे स्पाइरल आदि अलग-अलग शेप्स में तैयार किया जाता है. उसके बाद इन्हें घी में फ्राई कर इनकी माला बनायी जाती है और इस माला को बच्चों को पहनाया जाता है. बाद में इसी मिठाई को प्रवासी पक्षियों को भी खिलाया जाता है.

7. पुरन पोली

महाराष्ट्र में लंच के तौर पर पुरन पोली बनाने का रिवाज़ है. पुरन, चना दाल और गुड़ को मिलाकर तैयार होता है. जिसे आटे में भरकर इसकी रोटी बनाई जाती है और फिर इसे घी के साथ परोसा जाता है.

8. मकर चौला

ओडिशा के लोग ये डिश बनाते हैें. इसे बनाने के लिए चावल के आटे को पीसकर इसमें नारियल को घिसकर मिलाते हैं. फिर इसमें दूध, गन्ने के छोटे-छोटे टुकड़े, पका केला, चीनी, सफेद मिर्च पाउडर, पनीर, घिसा हुआ अदरक और अनार भी डाला मिलाया जाता है. 

9. फ़ेनी

फ़ेनी एक राजस्थानी डिश है, जिसे घी में अच्छी तरह से आटा गूंथ कर तैयार किया जाता है. फिर इसे भुने हुए ड्राई फ्रूट्स से गार्निश किया जाता है और मीठे दूध या चीनी के सिरप के साथ परोसा जाता है.

10. घेवर

ये डिश राजस्थान की ख़ासियत है. घेवर तीन प्रकार के होते हैं- सादा, मावा और मलाई घेवर. इस डिश को तैयार करते समय, आटे और दूध के घोल को गर्म घी में डाला जाता है और पकाया जाता है. इस प्रकार तैयार किया गए घेवर को फिर शक्कर की चाशनी में डुबोया जाता है, जिसे सूखे मेवों से गार्निश किया जाता है और परोसा जाता है.

11. गजक

सबसे पहले शुरुआत तिल से बनने वाले गजक की जिसकी शुरुआत मध्य प्रदेश के मोरेना से हुई है. इसे तिल को भूनकर और उसमें घी, चीनी या गुड़, पानी और ड्राई फ्रूट्स डालकर तैयार किया जाता है.

12. मुरक्कु

तमिलनाडु में संक्रांति को पोंगल के नाम से जाना जाता है. इस दिन यहां मुरक्कु खाने का रिवाज़ है. उड़द दाल, आटा, अजवायन और तिल को मिलाकर एक आटे जैसा गूंदा जाता है और फिर उसके स्पाइरल्स बनाकर उसे डीप फ्राई किया जाता है.

13. गोकुल पीठ

गोकुल पीठ को बंगाल के घरों में पौष-परबोन (बंगाल में मकर संक्रांति को दिया गया नाम) मनाने के लिए तैयार किया जाता है. इसकी तैयारी में, कसा हुआ नारियल और गुड़ का मिश्रण आटे की छोटी गेंदों में भरा जाता है. इस गोल आकार के आटे को चपटा किया जाता है जिसे फिर तेल या घी में डीप फ्राई किया जाता है.

14. Payesh Puli

Payesh Puli एक बंगाली डिश है, जो दो व्यंजन- पेठे और पेएश को एक में जोड़ती है. पीठा एक चावल के आटे का पकौड़ी है जिसमें कद्दूकस किया हुआ नारियल होता है. इसे दूध, चावल, और गुड़ के मिश्रण में डुबोया जाता है, जो पेयेश बनता है और उबाला जाता है.

15. खिचड़ी

संक्रांति के दिन देश के कई हिस्सों में खिचड़ी बनाई जाती है. लेकिन उत्तर प्रदेश और बिहार के कुछ हिस्सों में इसे खास तौर पर बनाया जाता है क्योंकि इन राज्यों में संक्रांति के त्योहार को खिचड़ी पर्व भी कहा जाता है. कई जगहों पर तो खिचड़ी में दाल-चावल के साथ-साथ मौसमी सब्जियां जैसे गोभी और हरी मटर भी डाली जाती है.

16. गन्ने के रस की ख़ीर

मकर संक्रांति या  पंजाबी उत्सव लोहड़ी इसे तैयार किए बिना अधूरा है. पंजाब की सबसे अधिक उगाई जाने वाली फसलों में से एक गन्ने के रस से ये ख़ीर तैयार होती है. इसे दूध के साथ मिलाकर तैयार किया जाता है और भुने हुए सूखे मेवों से गार्निश किया जाता है.

17. Xandoh

असम में मकर संक्रांति को माघ बिहु के नाम से जाना जाता है. इस डिश को फ्राइड और डी-हस्क्ड राइस को दही, गुड़, दूध, आदि के साथ मिला कर बनाया जाता है.

18. Kangsubi

मणिपुर में तिल के बीज से ये डिश बनाई जाती है. कांग्सुबी एक पके हुए तिल का केक है जिसे तिल और गन्ने के रस को मिलाकर तैयार किया जाता है और फिर पका कर खाया जाता है. 

19. दही-चूड़ा

दही-चूड़ा बिहार की ख़ासियत है. बिहार-झारखंड के लोग संक्रांति के दिन दही-चूड़ा जरूर खाते हैं. देश के कई हिस्सों में चूड़ा को चिवड़ा या पोहा भी कहा जाता है. इसे दही, चीनी या गुड़ के साथ मिलाकर तैयार किया जाता है.

20. हलवा

संक्रांति के दिन भी गाजर का हलवा, बादाम का हलवा, सूजी का हलवा या आटे का हलवा बनाए जाने की परंपरा है. हलवे में दूध और चीनी के अलावा ढेर सारे ड्राई फ्रूट्स भी डाले जाते हैं जिससे इसका स्वाद कई गुना बढ़ जाता है.

Source: crazymasalafood