Global Warming Places: ग्लोबल वॉर्मिंग (Global Warming) धीरे-धीरे एक बड़ी समस्या बनती चली जा रही है. ये पृथ्वी के धीमे-धीमे गर्म होने की प्रक्रिया है. लेकिन बीती शताब्दी से पृथ्वी के तामपान में तेजी से वृद्धि हुई है और ये बेहद चिंताजनक है. इंसानी आबादी की भारी मात्रा में चीज़ों की खपत के चलते जीवाष्म ईधन को ज़्यादा जलाया जा रहा है. इस वजह से वायुमंडल में ग्रीनहाउस गैस इकठ्ठा हो गई हैं. जब पृथ्वी के तामपान में वृद्धि होती है, तब तीव्र गर्मी की लहरें, बर्फ़ का पिघलना और समुद्र के लेवल में बढ़ोतरी देखने को मिलती है. समुद्र के लेवल में बढ़ोतरी होने की वजह से, समुद्र के समीप स्थित जगहों पर जलमग्न होने का ख़तरा मंडराता रहता है. 

global warming
Source: wwf

आइए आपको कुछ ऐसी जगह बता देते हैं, जिनके ग्लोबल वॉर्मिंग (Global Warming Places) के चलते ग़ायब होने की उम्मीद है. 

Global Warming Places

1. न्यूयॉर्क 

ये एक ऐसा शहर है, जो अटलांटिक महासागर से घिरा हुआ है. इस शहर ने हाल ही में प्राकृतिक आपदाएं जैसे तूफ़ान और बाढ़ का सामना किया है. जब समुद्र के लेवल में वृद्धि को प्राकृतिक आपदाओं के साथ जोड़ा जाता है, तो ये बात साफ़ है कि न्यूयॉर्क का काफ़ी बड़ा हिस्सा कुछ सालों में पानी के नीचे जा सकता है. 

new york global warming
Source: rollingstone

ये भी पढ़ें: ग्लोबल वॉर्मिंग के कारण 2050 तक ये 20 फ़ेमस जगहें कितनी बदल जाएंगी, इन तस्वीरों में देख सकते हैं

2. जकार्ता

इंडोनेशिया का सबसे बड़ा शहर जकार्ता जावा समुद्र के बगल में है और अभी से समुद्र जल स्तर के बढ़ने से कटाव महसूस कर रहा है. इसके साथ ही यहां पर अत्याधिक होने वाली ग्राउंडवाटर की पंपिग से यहां की ज़मीन डूब रही है. अगर हम इन दोनों बातों को एक साथ जोड़ें, तो आने वाले कुछ सालों में जकार्ता के पानी के अंदर समा जाने का ख़तरा काफ़ी ज़्यादा है.  

jakarta global warming
Source: indiatimes

3. वेनिस

इटली का शहर वेनिस काफ़ी तेज़ी से डूब रहा है और पहले ही कई गंभीर बाढ़ का सामना कर चुका है. इस शहर ने बाढ़ की समस्या से बचने के लिए बाढ़ बाधा प्रणाली की भी शुरुआत की. लेकिन ये सभी रोकथाम-संबंधी उपाय उतने क़ामयाब नहीं रहे और साल 2020 में इस शहर को दोबारा काफ़ी गंभीर बाढ़ का सामना करना पड़ा था.  (Global Warming Places)

venice global warming
Source: bbc

4. मियामी

कुछ रिसर्च के मुताबिक, इस शताब्दी के अंत तक यूएस के मियामी शहर के पानी में डूबने की सबसे ज़्यादा आशंकाएं हैं. मियामी के समुद्र का जल स्तर पहले से ही काफ़ी तेज़ी से बढ़ रहा है, जिस वजह से वहां अक्सर बाढ़ आती रहती हैं. इसके साथ ही ये शहर बाकी बाढ़ संबंधित समस्याओं से भी जूझता रहता है, जिसमें पीने के पानी में गंदगी और प्रॉपर्टीज़ की तबाही शामिल हैं. 

miami global warming
Source: vanityfair

ये भी पढ़ें: Then & Now : ग्लोबल वॉर्मिंग के प्रभाव की ये 15 भयावह तस्वीरें आपको अंदर से झकझोर कर रख देंगी

5. रोत्तेर्डम

नीदरलैंड्स के शहर रोत्तेर्डम का 90 प्रतिशत हिस्सा पहले ही समुद्री जल स्तर के नीचे है. हालांकि, बाढ़ से निपटने के लिए इस शहर में काफ़ी बड़े पानी को स्टोर करने के सिस्टम हैं. लेकिन ये बात सभी जानते हैं कि ये पानी के स्टोरेज सिस्टम एक पॉइंट पर सैलाब बन जाएंगे. (Global Warming Places)

rotterdam global warming
Source: nytimes

6. ढाका 

स्टडीज़ बताती हैं कि बांग्लादेश की राजधानी ढाका 2050 तक समुद्र में डूब जाएगी. इतना ही नहीं, समुद्र के बढ़ते स्तर के कारण देश के 70% से अधिक हिस्से को विनाशकारी बाढ़ का सामना करना पड़ेगा. शहर पहले से ही जलभराव की एक बड़ी समस्या का सामना कर रहा है, जो लोगों की समस्याओं को और बढ़ाएगा. 

dhaka global warming
Source: habitants

7. बैंकॉक

ये शहर वर्तमान में एक साल में 1 सेंटीमीटर से अधिक की दर से डूब रहा है. बैंकॉक को पानी के नीचे जाने के गंभीर ख़तरे का सामना करना पड़ रहा है. ये उतना जल्दी हो रहा है, जितनी जल्दी कोई सोच भी नहीं सकता है. 

bangkok global warming
Source: bbc

8. लागोस

नाइजीरिया देश के सबसे बड़ा शहर लागोस की एक नीची तटरेखा है. जब ग्लोबल वार्मिंग की बात आती है, तो इसकी तटरेखा का क्षरण सबसे बड़ी चुनौतियों में से एक है, जिसका सामना नाइजीरिया कर रहा है. इस देश के लिए अपनी तटीय आबादी को सुरक्षित स्थान पर स्थानांतरित करना एक बड़ा काम होगा. ये स्पष्ट है कि कुछ कठोर निवारक उपायों के बिना, शहर में तेजी से हो रही तबाही को रोकना असंभव होगा. 

lagos global warming
Source: leadership

ग्लोबल वार्मिंग इन शहरों के लिए बड़ा ख़तरा बन सकती है.