मिडिल क्लास शादी की कई झंझटे हैं, उनमें से एक है हनीमून डेस्टिनेशन तय करना. विदेश जाने की भी चाहत है लेकिन शादी में पहले ही इतना ख़र्चा हो चुका है कि बजट नहीं है. फिर यहीं कहीं मनाली, गोवा टाइप जगह में ही अडजस्ट करने का प्लान बनता है.

1. बाली

ये आजकल नए-नए जोड़ों के लिए फ़ेवरेट बना हुआ है. ख़ूबसूरत बीच, धान के खेत, शानदार होटल, बाली का स्थानीय खाना. 17 हज़ार से 35 हज़ार रुपये के बीच फ़्लाइट की टिकट होगी. वीज़ा ऑन अराइवल और वो भी फ़्री. मतलब कुल डेढ़ लाख में आपका हनीमून फ़ुल एंड फ़ाइनल हो जाएगा.

2. क्राबी

थाइलैंड बैंकॉक और पटाया के लिए मशहूर है लेकिन वहां और भी ऐसी प्राकृतिक रूप से ख़ूबसूरत जगह हैं, जिसे ज़्यादा एक्स्प्लोर नहीं किया गया है. कई सारे वॉटर स्पोर्ट्स, कम भीड़ वाले बीच, शानदार खाने के लिए नए जोड़े क्राबी भी जा सकते हैं. फ़्लाइट की कीमत प्रत्येक व्यक्ति 20 से 28 हज़ार रुपये की होगी.

3. मॉरिशस

हिन्द महासागर की गोद में बैठा ये द्वीप भारतीयों के बीच ख़ासा चर्चित है. यहां आप बीच, होटल, वॉटर एडवेंचर के अलावा आपको बेहद ख़ूबसूरत लैंडस्केप देखने को मिलेगी. यहां का खाना भी आपके उत्साह को बनाए रखेगा.

Source: Angsana

हिन्द महासागर की गोद में बैठा ये द्वीप भारतीयों के बीच ख़ासा चर्चित है. यहां आप बीच, होटल, वॉटर एडवेंचर के अलावा आपको बेहद ख़ूबसूरत लैंडस्केप देखने को मिलेगी. यहां का खाना भी आपके उत्साह को बनाए रखेगा.

4. वियतनाम

Source: ArchDaily

भारत से इस दिशा में उड़ने वाले सभी फ़्लाइटों में सबसे महंगी टिकट वियतनाम की आती है. प्रतेक टिकट 30 से 35 हज़ार के आस-पास होती है, लेकिन यहां रहने का ख़र्चा और घूमने का ख़र्चा बाकियों से कम होता है. वियतनाम में रेल से यात्रा करने का अनुभव मज़ेदार रहेगा.

5. फ़िलीपींस

Source: Culture Trip

दुनिया के कुछ प्रसिद्ध टूरिस्ट स्पॉट में से एक है. यहां के बीच और आइलैंड लाइफ़ के चर्चे होते हैं. फ़िलीपींस का स्थान बैकपैकर्स के लिस्ट में भी आता है. बस यहां का ख़र्चा बाकी जगहों से थोड़ा ज़्यादा बैठेगा.

6. मलेशिया

Source: TripSavvy

मलेशिया भी एक अच्छा विकल्प है, इसके साथ एक फ़ायदा ये भी है कि आप साथ ही साथ कुआला लंपुर की सैर भी कर सकते हैं. द्वीप है, तो बीच भी होंगे. अगर प्लानिंग समझदारी से की जाए, तो ये भी आपके बजट में समा सकता है.

हनीमून की सारी प्लानिंग हो चुकी है, बस शादी करने की देरी है.