आपने नाख़ून रगड़ने के बारे में ज़रूर सुन रखा होगा. मेट्रो में, बस में, शॉपिंग मॉल में कई लोगों को भी आपने अपने नाख़ून रगड़ते हुए देखा होगा. हो सकता है आप भी उन लोगों में से हों जो ऐसा करते हैं. आपने साथ में ये भी सुना होगा कि ऐसा करने से बाल काले होते हैं मज़बूत होते हैं और बालों का झड़ना कम होता है. हां, ये सच है और इसके पीछे वैज्ञानिक कारण भी है. आइये आपको बताते हैं कैसे काम करता है ये.

Source: pixabay

एक्यूप्रेशर के बारे में आपने ज़रूर सुना है. एक्यूप्रेशर के अनुसार ऐसा माना जाता है कि पूरा शरीर जुड़ा हुआ है. शरीर के एक हिस्से में दबाव डालने से दूसरे हिस्से में प्रभाव पड़ता है. शरीर में कुल ऐसे एक हजार ऐसे बिंदु हैं, इनको एक्यूप्वाइंट कहा जाता है.

Source: lifealth

चाइनीज़ एक्यूप्रेशर की माने तो हमारी उंगलियों की नसें खोपड़ी से जुड़ी हुई होती है. जब नाख़ून को रगड़ा जाता है तो उंगलियों की नसें खोपड़ी की नसों में दबाव डालती हैं. जिससे रक्त का प्रवाह तेज़ हो जाता है जिससे बाल मज़बूत होते हैं और बालों का झड़ना रुकता है. यह बालों को काला बने रखने में मदद करता है.

Source: pxhere

हालांकि इसका असर तुरंत दिखना नहीं शुरू होगा. इसके लिए आपको कम से कम 3-6 महीनों का समय देना होगा. इसकी मदद से बालों से सम्बंधित और भी परेशानियां जैसे बालों में डैंड्रफ होने जैसी समस्याओं से भी छुटकारा मिल सकता है.

Source: pexels

योग में भी इस बात का ज़िक्र है. इसे बालायाम यानी बालों का व्यायाम कहा जाता है. अगर आपको डायबिटीज़, हृदय रोग है या आप गर्भवती महिला हैं तो इसे करने से आपको बचना चाहिए क्योंकि यह रक्तचाप को बढ़ा सकता है. ये आपको दिन भर नहीं करना है. आप इसे  दिन में 5-10 मिनट ही करेंगे तो भी बहुत होगा.

Source: endocrineweb

अब बस रोज़ाना 5-10 मिनट तक करिये बालायाम और बनाइये अपने बालों को मज़बूत.