IMD Alert Meaning in Hindi: भारत में कोई जल्दी आए न आए, लेकिन गर्मी सबसे पहले आती है! मई शुरू हो चुका है और गर्मी अपने साथ चिलचिलाती धूप, लू की हवा लेकर पधार चुकी है. जिससे सब परेशान हैं. यहां तक कि अप्रैल में रिकॉर्ड तोड़ गर्मी का एहसास हुआ था लोगों को. जिसकी वजह से IMD (India Meteorological Department) ने देश के कई शहरों में ऑरेंज अलर्ट भी घोषित कर दिया था. लेकिन, आपने कभी ध्यान दिया कि, IMD के दिए गए ये अलग-अलग रंग के अलर्ट का मतलब क्या होता है. अगर नहीं, तो आज हम इस आर्टिकल के ज़रिये बताएंगे कि हीटवेव क्या होता है और IMD कब ये अलर्ट घोषित करती है! (IMD Alert Meaning in Hindi) 

ये भी पढ़ें: चुभती-जलती गर्मी में ये 10 देसी शरबत आपको सारा दिन रीफ़्रेश करने के साथ-साथ एनर्जी भी देंगे

तो चलिए, इस विषय पर विस्तार से जानते हैं. (IMD Alert Meaning in Hindi)

हीटवेव क्या होता है? (Heat Wave Kya Hota Hai)

heatwave
Source: ndtv
imd
Source: theshillongtimes

हीटवेव एक स्थिति है, जहां हवा का तापमान अगर बढ़ जाये तो इंसानों के लिए एक बड़ी विपदा खड़ी हो जाती है. जो हर वर्ष शहरों के लोगों को झेलनी पड़ती है. बता दें कि, भारत में कई जगहों पर तो 45 डिग्री तक तापमान पहुंच गया है. अगर तामपान 45 डिग्री है तो उसे हीटवेव कहते हैं और अगर 45 डिग्री से ज़्यादा हो, तो उसे भीषण हीटवेव कहते हैं. 

40 डिग्री से ज़्यादा तामपान मतलब, हीटवेव का आगमन!

heatwave
Source: researchmatters

हीटवेव IMD तब घोषित करती है, जब मैदानी क्षेत्रों में 40 डिग्री से ज़्यादा तापमान हो और पहाड़ी क्षेत्रों में 30 डिग्री से ज़्यादा. हीटवेव अक्सर मार्च-जून के बीच में आता है और कभी कभी जुलाई तक भी चलता है. हीटवेव का दबदबा ज़्यादातर पंजाब, दिल्ली, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, बिहार, बंगाल जैसी जगहों पर ज़्यादा होता है. 

जाने क्या होता है IMD द्वारा दिए गए रंगों का मतलब? (IMD Alert Meaning in Hindi)

ग्रीन (Green)

greenalert
Source: hindi.news18

इसका मतलब की कोई भी कार्यवाही ज़रूरी नहीं है. साथ ही गर्मी नियंत्रण में है! इसलिए जब ग्रीन अलर्ट हो तब घबराने की ज़रूरत नहीं है. आप आराम से रह सकते हैं.

येलो अलर्ट ( Yellow Alert)

yellowalert
Source: theliveahmedabad

येलो अलर्ट की परिस्थिति तब आती है, जब हीटवेव 2 दिन के लिए अलग-अलग इलाकों में रहती है. लेकिन, तापमान नियंत्रण में रहता है. हीटवेव को कुछ लोग झेल लेते हैं. लेकिन बच्चे, बुज़ुर्ग और जिन्हें कोई बड़ी बीमारी है. उनके लिए झेलना मुश्किल है. इसीलिए IMD सुझाव देती है कि, अगर ज़रूरी न हो तो घर से बाहर न निकले, हल्के कपड़े पहनें और हमेशा कैप या छाता अपने पास रखें.

ऑरेंज अलर्ट (Orange Alert)

orangealert
Source: dnaindia

ऑरेंज अलर्ट मतलब "सतर्क हो जाइये". यह परिस्थिति तब आती है, जब हीटवेव दो दिन से भीषण हो गयी हो. हीटवेव की परिस्थिति दिल्ली में अप्रैल के महीने में 9 बार आ चुकी है. 2010 में 11 बार आ चुका था. 

रेड अलर्ट (Red Alert)

redalert
Source: onmanorama

रेड अलर्ट की परिस्थिति तब आती जब हीटवेव 6 दिन से ज़्यादा रहे. ऐसी परिस्थिति में हीट स्ट्रोक और अन्य बीमारी होना नॉर्मल है. इसीलिए खुद को इस गर्मी से बचाने के लिए ख़ूब पानी पिएं! 

नोट- साथ ही यह जान लें कि, मौसम विभाग द्वारा ग्रीन, येलो, ऑरेंज और रेड अलर्ट केवल गर्मी में नहीं बल्कि तूफान, बारिश, सर्दी में भी जारी किए जाते हैं. अगर आपको इससे जुड़ी अन्य जानकारी भी चाहिए तो कमेंट करके पूछ लें. (IMD Alert Meaning in Hindi)