कोरोना वायरस का कहर दुनियाभर में जारी है. भारत इन दिनों कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित देश है. देश में हर दिन कोरोना के 50 हज़ार से अधिक मामले सामने आ रहे हैं जो पूरी दुनिया में सबसे अधिक हैं.  

Source: twitter

कोरोना संकट के बीच राजस्थान के जोधपुर शहर के एक रेस्टोरेंट ने एक अनोखी पहल शुरू की है. क़रीब 3 महीने से बंद पड़ा ये रेस्टोरेंट ग्राहकों को लुभाने के लिए 'कोविड करी' और 'मास्क नान' परोस रहा है, जिसकी इन दिनों ख़ूब चर्चा हो रही है. 

Source: twitter

जोधपुर के 'Vedic' नाम के शाकाहारी रेस्टोरेंट ने कोरोना के चलते अपनी डिशेज के नाम भी इसी जुड़े रखे हैं. रेस्टोरेंट ने ये पहल न केवल ग्राहकों को लुभाने के लिए, बल्कि लोगों को कोरोना से सचेत करने और कोरोना को लेकर फ़ैल रहे भ्रम को दूर करने के लिए शुरू की है.  

The Indianexpress से बातचीत में रेस्टोरेंट के मालिक अनिल कुमार का कहना है कि, ग्राहकों के बीच 'कोविड करी' और 'मास्क नान' की काफ़ी डिमांड है. 'कोविड करी' मलाई कोफ़्ते का ही एक रूप है. इसमें कई तरह के हर्ब्स और मसाले मिलाए जाते हैं. जबकि मास्क की शेप में बनाए जा रहे 'मास्क नान' भी डिमांड में हैं.

Source: twitter

मावा (खोया) से बनने वाले छोटे-छोटे कोफ़्तों को क्रोन्स (कोरोना) के आकार का बनाया गया है. एक प्लेट 'कोविड करी' की क़ीमत 220 रुपये, जबकि एक 'मास्क नान' की क़ीमत 40 रुपये रखी गई है.  

Source: twitter

बता दें कि कोरोना महामारी के चलते देशभर में आर्थिक गतिविधियां काफ़ी समय तक ठप रहने के बाद एक बार फिर से शुरू हो गई हैं. इस दौरान कई शर्तों के साथ रेस्टोरेंट खोले जा रहे हैं. ऐसे में ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए जोधपुर के इस रेस्टोरेंट ने नायाब तरीक़ खोज निकाला है, जो कामयाब भी दिख रहा है. 

सोशल मीडिया पर लोग इसे लेकर काफ़ी उत्साहित हैं-