Pinjara Pol Goshala: इंसानों के लिए अपार्टमेंट बनते सुना होगा, लेकिन जयपुर की पिंजरा पोल गौशाला ने पक्षियों के लिए घर बनाया है. आसमान में आज़ाद उड़ते परिंदों को घर दिया है, जहां वो सर्दी, गर्मी और बरसात से बच सकते हैं. वैसे ऐसा सोचने वाले दुनिया में बहुत कम हैं, क्योंकि इंसान अपने लिए तो सोचता है, लेकिन इन बेज़ुबानों के लिए नहीं. इन बेज़ुबानों की भाषा को समझा है जयपुर की पिंजरा पोल गौशाला (Pinjara Pol Goshala) ने.

ये भी पढ़ें: इस जानलेवा गर्मी में दूसरों को राहत पहुंचाने के लिए ये बुज़ुर्ग पानी का गिलास लिए रोड पर खड़े हैं

Pinjara Pol Goshala

80 फ़ीट ऊंची ये इमारत 6 मंज़िला है, जिसमें पक्षियों के लिए अलग-अलग फ़्लैट हैं और इन फ़्लैट्स में क़रीब 2 हज़ार से ज़्यादा पक्षी रह सकते हैं. इसमें इनके खाने-पीने का भी पूरा इंतज़ाम किया गया है. जानकारी के अनुसार, इसे गुजरात के कारीगरों ने बनाया है और लोग पत्रियों के घर बनने की सोच की काफ़ी सराहना कर रहे हैं.

Pinjara Pol Goshala

जंगल ही इन पक्षियों के घर हैं, लेकिन जिस तेज़ी से जंगल घट रहे हैं ये पक्षी कहां जाएंगे. इसलिए जयपुर की पिंजरा पोल गौशाला ने पक्षियों के लिए फ़्लैट बनाए ताकि वो इसमें रह सकें. इस पर गौशाला के सदस्य आर विजयवर्गीय का कहना है,

इस इमारत में लगभग 2000 पक्षी रह सकते हैं. आज लोग बड़ी-बड़ी इमारतों में रह रहे हैं, लेकिन इन पक्षियों के लिए कोई कुछ नहीं करना चाहता इसलिए हमने इनके बारे में सोचा और ये क़दम उठाया.
Pinjara Pol Goshala

इस अपार्टमेंट को पर्यावरण को ध्यान में रखकर बनाया है. आपको बता दें, जानवरों के लिए काम करने वाली इस संस्था की स्थापना 1907 में हुई थी.