हमें बचपन से ही हर चीज़ एक बक्से में बंद करने की आदत है. कौन क्या कर सकता है और कौन क्या नहीं, हमने अपने मन में ये धारणा बना ली है. अपनी इस सोच की वजह से ही हम कई बार कई बार ऐसे लोगों को मौका ही नहीं दे पाते हैं जो सक्षम होते हैं, लेकिन इस दुनिया में हर इंसान की सोच एक सी नहीं होती है.

अब पुणे के इस रेस्टोरेंट को ही ले लीजिये. ये पूरे शहरभर में एकमात्र ऐसा रेस्टोरेंट है जिसे मूक, बधिर और दिव्यांग लोग बड़े ही ज़बरदस्त तरीक़े से चला रहे हैं. पुणे की FC रोड पर स्थित Terrasinne नाम के इस रेस्टोरेंट में 20 लोग काम करते हैं, जो खाना बनाने से लेकर परोसने का काम करते हैं.

Pune restaurant
Source: whatshot

इस ख़ास तरह रेस्टोरेंट के पीछे डॉ. सोनम कापसे की सोच है. इसके सभी कर्मचारी दिव्यांग हैं. Sign Language ही इनके पास बात करने का एकमात्र तरीक़ा है. कस्टमर्स को तक़लीफ़ न हो जिसके लिए मेन्यू में हर एक डिश के आगे ख़ास Sign का चित्र भी बनाया गया है.

इस रेस्टोरेंट की सबसे ख़ास बात ये है कि यहां शुद्ध ऑर्गनिक भोजन मिलता है. ये रेस्टोरेंट किसानों से सीधे सम्पर्क कर उनसे फ्रेश प्रोडक्ट्स ख़रीदता है. जो फ्रेश ही रेस्टोरेंट की किचन तक पहुंचते हैं. इसलिए ये क़्वालिटी के साथ साथ सेहत के लिए भी बेहद फ़ायदेमंद होते हैं.  

हालांकि मुंबई में भी ऐसा ही एक रेस्टोरेंट है, लेकिन पुणे में ये अपनी तरह का पहला है.