मिलिए उस वक़ील से जो कोर्ट रूम में हिंदी या इंग्लिश में नहीं, संस्कृत में देते हैं अपनी दलील