हम में से कई लोग घर की साफ़-सफ़ाई का बहुत ध्यान रखते हैं और रोज़ाना घर का कोना-कोना क्लीन करते हैं. पर सवाल ये है कि क्या ऐसा करके भी गंदगी से होने वाली बीमारियों से बच रहे हैं? टेक्निकली इसका जवाब न है. क्योंकि रोज़ घर की सफ़ाई के बावज़ूद आपके घर में सैकड़ों कीटाणु पनप रहे हैं, जो बहुत सी बीमारियों का कारण हैं.  

अगर आप घर के कोने-कोने के साथ-साथ इन चीज़ों की सफ़ाई नहीं करते है, तो घर की Cleaning अधूरी है जनाब: 

1. गर्म कपड़े 

गर्म कपड़ों की धुलाई सिर्फ़ सर्दियां आने पर ही होती है. वो भी महीने में शायद एक या फिर दो बार. अगर आप भी ऐसा करते हैं, तो इस आदत को बदलिये और जितना हो सके सर्दियों के कपड़ों को साफ़ रखें.  

2. पंखा और लाइट्स 

ज़्यादातर लोग Fan और Lights तब तक साफ़ नहीं करते, जब तक उन पर काली परत नहीं जमा नहीं हो जाती. जबकि इन दोनों ही चीज़ों को Weekly क्लीन करना चाहिये.  

3. पर्दे 

घर में इस्तेमाल किये जाने वाले पर्दे काफ़ी भारी होते हैं, इसलिये लोग 6 महीने या सालभर या शायद दिवाली में इनकी सफ़ाई करना उचित समझते हैं. पर ऐसा नहीं होना चाहिये. पर्दों पर सबसे ज़्यादा गंदगी होती है, जिसकी महीने में एक बार धुलाई ज़रूरी है.  

4. बेडशीट्स और रजाई 

अगर आपके घर में Pets हैं और वो आपके बेड पर भी चढ़ जाते हैं, तो आपको हफ़्ते में इनकी सफ़ाई ज़रूर करनी चाहिये.  

5. कालीन 

ऐसा किस क़िताब में लिखा है कि कालीन को साल में एक बार साफ़ करना चाहिये? Technically इसकी सफ़ाई Weekly होनी चाहिये.  

6. बाथ Toys 

अगर घर में छोटे बच्चे हैं और Bath Toys का यूज़ होता है, तो इसकी सफ़ाई सिर्फ़ पानी से नहीं, बल्कि पानी में White Distilled Vinegar मिला कर करिये.  

7. Oven 

Oven की सफ़ाई साप्ताहिक तो नहीं, पर हां साल में दो-तीन बार हो जानी चाहिये. 

8. फ़्रिज 

 हफ़्ते में एक बार Refrigerator की सफ़ाई ज़रूरी है.  

साफ़-सफ़ाई का ध्यान रखो और स्वस्थ रहो.  

Lifestyle के और आर्टिकल पढ़ने के लिये क्लिक करें.