एक पायलट प्लेन में क्या करता है? ज़ाहिर तौर पर हमारा जवाब होगा कि प्लेन उड़ाता है. ये सही भी है, मगर पूरा सच नहीं है. दरअसल, प्लेन की सुरक्षा और सुविधा से जुड़ी कई बातें होती हैं जिनसे यात्री अंजान रहते हैं. इनके बारे में सिर्फ़ पायलट को ही जानकारी होती है. 

मसलन, क्या आप जानते हैं कि कॉकपिट की छत में रस्सियों का एक पेयर होता है, जो इमरजेंसी में पायलट को प्लेन से निकलने में मदद करता है. 

आज हम आपको कुछ ऐसी ही रोचक बातों के बारे में बताने जा रहे हैं. 

1. पायलट के आराम करने के लिए बेडरूम भी होता है.

bedroom
Source: brightside

जब उड़ानें बहुत ज़्याद लंबी होती हैं, तो पायलट को भी आराम करने की ज़रूरत पड़ती है. ऐसे में उनके लिए आमतौर पर 2 सीक्रेट बेडरूम होते हैं, जहां वो थकने पर आराम कर सकते हैं. एक स्लीपिंग एरिया विमान के सामने और दूसरा पीछे की तरफ़ होता है. उनके पास कुछ सीढ़ियां हैं जो उनकी ओर जाती हैं.

ये भी पढ़ें: दुनिया की सबसे छोटी रियासत, जहां का राजा पहनता है हाफ़ पैंट और रहता है ऐसे कि पहचान न पाओ

2. एक शॉवर और बॉथरूम भी होता है.

bathroom
Source: brightside

बड़े कमर्शियल विमानों में बेडरूम के साथ पायलट के लिए अलग बाथरूम भी होता है, जहां वो आराम करने के बाद शॉवर ले सकते हैं. यहां इमरेंजसी में इस्तेमाल हो सकने वाले उपकरण भी मौजूद रहते हैं. साथ ही, लंबी उड़ानों में क्रू आराम कर सके, इसके लिए एक्स्ट्रा क्रू भी साथ चलता है. बता दें, लंबी उड़ानों में क्रू के लिए आराम करना अनिवार्य होता है.

3. उपद्रवी यात्रियों के लिए हथकड़ी भी होती है.

handcuffs
Source: npr

पायलट प्लेन के प्रभारी होते हैं, इसलिए उनके पास कुछ अधिकार भी होते हैं. अगर कोई यात्री प्लेन में बवाल करता है और चेतावनी देने के बाद भी बाज़ नहीं आता, तो पायलट को ज़मीन पर पुलिस बुलाने का अधिकार है. साथ ही, वो क्रू को उस यात्री को हथकड़ी लगाने को भी बोल सकता है.

4. आपात स्थिति के लिए ऑक्सीजन मास्क

Oxygen masks
Source: brightside

जब प्लेन ज़्यादा ऊंचाई पर जाता है, तो सभी को ऑक्सीज़न की ज़रूरत पड़ती है. यात्रियों के पास ऑक्सीजन मास्क होते हैं, और पायलटों के पास अपने हुड. कॉकपिट में प्रत्येक पायलट के बाईं ओर स्थित विशेष डोनिंग मास्क लगे होते हैं. ये सामान्य मास्क की तुलना में ज़्यादा कॉम्प्लेक्स होते हैं. साथ ही, ज़्यादा लंबे समय तक ऑक्सीजन की पूर्ति करते हैं. क्योंकि जब पायलट बचेगा, तब ही तो सबको बचाएगा.

5. पायलट के पास होती है कुल्हाड़ी

crash axe
Source: brightside

पायलट के पास एक कुल्हाड़ी भी होती है, जिसके बारे में यात्रियों को नहीं पता होता. इसे कॉकपिट में रखा जाता है ताकि आग लगने पर या दरवाज़ा अटक जाने पर उसका इस्तेमाल किया जा सके. इमर्जेंसी एक्जिट बनाने के लिए भी इन दरवाज़ों का इस्तेमाल किया जाता है.

6. वीडियो कैमरा

video camera
Source: brightside

सभी फ़्लाइट डिटेल को वैरिफ़ाई करने के लिए पायलट हर समय एयर टावर कंट्रोलर के साथ बात करते रहते हैं, लेकिन कुछ कॉकपिट में वीडियो कैमरे भी हैं जो पायलटों को रिकॉर्ड करते रहते हैं. फ्लाइट क्रू इस बारे में जानता है, और ये सभी फ्लाइट डेटा को भी रिकॉर्ड करता है. इसकी मदद से बाद में किसी भी चीज़ को लेकर जांच-पड़ताल की जा सकती है.

7. प्लेन से निकलने के लिए रस्सियां

Escape ropes in aircrafts
Source: brightside

प्रत्येक कॉकपिट में 2 रस्सियां होती हैं, जिनका उपयोग खिड़कियों के माध्यम से हवाई जहाज को निकालने के लिए किया जा सकता है. रस्सियां कुछ मीटर लंबी होती हैं और उन्हें गांठ भी लगाई जाती है. इससे पायलटों को आसानी से नीचे उतरने में मदद मिलती है. 

8. बाहर निकलने के लिए स्लाइडिंग विंडो

Sliding windows
Source: brightside

अगर किसी कारण से दरवाज़ा न खुले तो पायलट को प्लेन से इमेरजेंसी में बाहर निकलने के लिए दूसरी विकल्प तलाशने होंगे. ये दूसरा विकल्प 2 स्लाइडिंग विंडो होती हैं, जो हर पायलट की तरफ़ लगी होती हैं और ये अंदर से खुलती हैं. इमेरजेंसी में इनका इस्तेमाल पायलट बाहर निकलने के लिए कर सकते हैं.