दूसरों के दिमाग़ में क्या खिचड़ी पक रही है, ये कौन नहीं जानना चाहता? ज़ाहिर है कि हम सभी को दूसरों का दिमाग़ पढ़ने की चुल्ल होती है. मगर लोचा-लपाचा यही तो है कि आख़िर करें कैसे? 

अब सामने वाला अपने मुंह से तो बताने से रहा. हां, मगर, उसके हाव-भाव से सारा माज़रा हम आसानी से समझ सकते हैं. बस इसके लिए आपको ध्यान से हमारा आर्टिक्ल पढ़ना होगा और फिर जिसका दिमाग़ पढ़ना चाहते हैं, उस पर नज़रें गड़ानी होंगी.

तो चलिए दूसरों का दिमाग़ पढ़ने वाली कुछ ट्रिक्स आपको भी सिखा दी जाएं.

1. आंखें भी होती हैं दिल की ज़ुबान.

Lies hidden in eyes
Source: uplifers

जी हां, दिल में क्या चल रहा है, इसे आंखें बखूबी बयां कर देती हैं. अगर कोई बात करते हुए अपनी आंखें राइट साइड ऊपर की तरफ़ उठा रहा है, तो इसका मतलब वो झूठ बोल रहा है. ऐसा इसलिए क्योंकि वो मन में कुछ न कुछ फालतू की कहानी गढ़ रहा होता है. वहीं, जब यही सेम चीज़ वो लेफ़्ट साइड पर करता है, तो इसका मतलब वो सच बोल रहा है.

ये भी पढ़ें: प्रेग्नेंसी के दौरान मां के साथ पिता में भी दिखते हैं ये 6 लक्षण, शरीर में भी होते हैं कई बदलाव

2. बहुत ज़्यादा ही सिर हिला रहा हो तो.

nodding too much
Source: gifimage

जब किसी की मनपसंद बात न हो रही हो या फिर वो दिए गए निर्देशों को समझ नहीं पा रहा होता है, तब वो फ़ालतू ही अपना सिर बार-बार हिलाने लगता है. अगर कभी ऐसा हो, तो आप दोबारा से उसी बात को दूसरे तरीके से करने की कोशिश करें. 

3. चेहरे की मुस्कान कहीं फ़ेक चमकान तो नहीं?

Fake a smile

हम चेहरे पर आई झुर्रियों से भले ही नाराज़ रहते हों, लेकिन वास्तव में यही झुर्रियां किसी इंसान की असली और नकली मुस्कान का अंतर बता सकती हैं. क्योंकि कोई नकली ही मुंह मुस्कुरा रहा है, तो उसकी आंखों के किनारे झुर्रियां नहीं दिखाई देंगी. कहने का मतलब है कि होठों के साथ जब आंखें भी मुस्कुराएं, तब समझिएगा कि मामला ख़ुशनुमा है.

4. अगर कोई अपना जबड़ा दबाए हुए हो.

clench jaw
Source: delfi

कोई अगर अपना जबड़ा कसकर बंद करे हा या पीस रहा हो, तो समझ लीजिए मामला कुछ टेंशन वाला है. अक्सर लोग किसी परेशानी में इस तरह मुंह बंद करते हैं. वैसे जो लोग ये करते हैं, उन्हें भी इसका एहसास नहीं होता. 

5. किसी के इमोशन्स असली हैं या नकली, कैसे जानें?

faking the emotion
Source: businessinsider

इसके लिए आपको सामने वाले के चेहरे को ध्यान से देखना होगा. अगर उसके चेहरा का एक हिस्सा दूसरे वाले से ज़्यादा एक्टिव हो, तो समझ लीजिएगा कि उसके इमोशन्स फ़र्ज़ी हैं.

6. किसी के हाथ उठाने की ऊंचाई उसके आत्मविश्वास की ऊंचाई भी बताती है.

Psychological Tricks
Source: opexengine

अगर कोई किसी भी चीज़ को लेकर अपना पूरा हाथ उठाता है, तो इसका मतलब है कि वो आत्मविश्वास और ऊर्जा से भरा है. वहीं, अगर केवल सिर के लेवल तक कोई हाथ खड़ा कर रहा है, तो समझ लीजिए कि उस शख़्स में असुरक्षा की भावना है या फिर वो शर्मीला है.

7. हथेलियों में छिपी है सामने वाले की असली बात

palms

अक्सर ऐसा होता है कि सामने वाला बोलता कुछ है और हम समझते कुछ. कई बार ऐसा भी होता है कि सामने वाले के बोल और उसके असली मकसद के बीच का अंतर समझ नहीं आता. ऐसे में आप उसकी हथेलियों पर ध्यान दें. अगर किसी की हथेलियां ऊपर की ओर हैं, तो इसका मतलब है कि वो आपको कोई सुझाव दे रहा है या कुछ पूछ रहा है. मगर हथेलियां अगर नीचे की ओर हैं, तो इसका मतलब वो आपको कुछ ऑर्डर दे रहा है या आप से कुछ मांग रहा है. 

8. दूरियां वाकई नज़दीकियों का एहसास करा देती हैं.

Distance
Source: echetor

अगर आप किसी से बात करते हुए उसकी ओर बढ़ें और वो पीछे हट जाए, तो समझ लीजिए वो आपको बहुत ज़्यादा पसंद नहीं करता. वहीं, अगर वो ऐसा न करें, इसका मतलब है कि वो आपको पसंद करता है और साथ खड़ा होना चाहता है. 

हैं न ये मज़ेदार ट्रिक्स. अगर आप भी ऐसे ही कुछ तरीकों का इस्तेमाल करते हैं, तो हमें कमंट्स में ज़रूर बताएं.