एक सवाल, Weekend में आप क्या करते हैं?


बैचलर्स कहेंगे कपड़े धोना, घर की सफ़ाई, फ़्लैटमेट्स के साथ ब्रेकफ़र्स्ट, फिर मूवी या शॉपिंग और रात को तो 'इट्स द टाइम टू डिस्को' फ़िक्स है बॉस!

ज़्यादातर लोगों का यही जवाब होगा, हां पार्टी सभी नहीं करते ये पता है. कुछ लोग तो विकेंड पड़े-पड़े ही बिता देते हैं और ये भी एक कला है!


ये फ़ैक्ट ही है कि दिन के 24 घंटें में 1 न 1 बार मन में ख़याल आता ही होगा कि 'यार, मैं कर क्या रहा/रही हूं?'

हम करियर के बारे में तो नहीं बता रहे पर आपके वीकेंड को थोड़ा बेहतर बनाने का एक छोटा सा तरीका बता रहे हैं.

दक्षिणी दिल्ली के साकेत में कई कैफ़ेज़ हैं. चम्पा गली, रोज़ कैफ़े वगैरह वगैरह. अगर आपको किताबों से इश्क है और खाने से प्यार है तो आपको साकेत स्थित The Nerdy Indian Cafe जाना चाहिए.


Nerdy अर्थात्, पढ़ाकू, किताब प्रेमी...

देश का पहला ऐसा कैफ़े जहां हर ऑर्डर के साथ आप एक किताब अपने साथ ले जा सकते हैं.


15-20 लोगों के बैठने लायक ये कैफ़े फ़ैमिली, कपल, दोस्तों का ग्रुप या सोलो ट्रैवलर्स के लिए बहुत सही जगह है.

इस कैफ़े को खुले हुए बस एक महीना ही हुआ है पर यहां का रिलैक्सिंग ऑरा कस्टमर्स को आकर्षित करने के लिए काफ़ी है.

View this post on Instagram

Repost from @foodiesparsh - Visited this small cute outlet @thenerdyindiancafe today which let's you pick one free book after having meal at their outlet. Firstly I tried their Lemon , garlic and herbs fries (170₹) and man I'll definitely revisit this place just because of this fries , I have never tried this combination in any cafe before and then I tried their peri peri pink sauce pasta (290₹)which has a tangy taste and it is highly recommended and lastly I tried Alfredo momos (170₹)which were good in taste. Also tag your friends who will love to visit this cafe 👀. . . . . #foodiesparsh #picoftheday #instagrammers #thefeedfeed#vscocam #kindcomments #foodmaniacindia#foodtalkindia #beautifulcusines #mumbaifoodie#foodofmumbai #foodstyling #soulfood#foodislife #eatingdisorderrecovery #eatingforinsta#delhifood #instaupload #paneertikka #foodblogger #indianfood #foodstagram #styling #streetfood#pasta#foodphotography #fries#flatlay #momos

A post shared by The Nerdy Indian (@thenerdyindiancafe) on

को-फ़ाउंडर, आयुष ने Indian Express से बात-चीत में कहा,

एक दिन सुबह के तक़रीबन 8 बजे गुरुग्राम से एक महिला का फ़ोन आया और उन्होंने कहा कि वो कैफ़े के लिए किताबें डोनेट करना चाहती हैं.

- आयुष

उस महिला ने कैफ़े को 60 किताबें डोनेट की.

हमें देशभर से बहुत अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही है. युवा लेखक हमें चेन्नई, बेंगलुरू, कोलकाता से किताबें भेज रहे हैं

- आयुष

एक बार इस कैफ़े के दर्शन ज़रूर कर आईए.