एक सवाल का जवाब दीजिए, आपको सबसे ज़्यादा ख़ुशी किसमें मिलती है?


अगर छोटी-छोटी ख़ुशियों की बात करें तो चाय का गरमा-गरम कप, तीखा-खट्टा गोलगप्पा या फिर बस कोई अच्छा सा गाना सुनकर भी हमें ख़ुशी मिलती है. पर सबसे ज़्यादा ख़ुशी कब महसूस होती है?

Source: Joe

बहुत से लोग कहेंगे शादी. ये आम मान्यता है कि शादी किसी भी शख़्स ख़ासकर, किसी भी लड़की की ज़िन्दगी का सबसे ख़ुशनुमा दिन होता है. इस वाक्य के साथ ये भी जोड़ दिया जाता है कि शादी के दिन लड़कियां सबसे ज़्यादा सुंदर इसीलिए दिखती है क्योंकि वो सबसे ज़्यादा ख़ुश होती हैं.


एक सर्वे में न ये बात ग़लत साबित हो गई है. Booking.com ने 17 देशों के 17000 लोगों पर एक स्टडी की. उनमें से 49% लोगों का कहना था कि उन्हें शादी के दिन से ज़्यादा ख़ुशी छुट्टियां मनाने से मिली.

Source: Tea Cake Travels

सर्वे में हिस्सा लेने वाले आधे लोगों का कहना था कि डेटिंग से ज़्यादा वो ट्रैवलिंग से भावनात्मक तौर पर अच्छा महसूस करते हैं. 45% लोगों का कहना था कि ट्रैवलिंग किसी से सगाई करने से कहीं ज़्यादा बेहतर महसूस करवाता है.


29% लोगों ने तो यहां तक कहा कि माता-पिता बनने से ज़्यादा ख़ुशी सफ़र से मिलती है.

70% लोगों ने कहा कि कुछ नया ख़रीदने से ज़्यादा अच्छा वो किसी नए, दूर-दराज़ के इलाके जाकर महसूस करते हैं. सर्वे में हिस्सा लेने वाले 56% लोग ज़िन्दगीभर ट्रैवल करने को और अपनी एश-ओ-आराम की ज़िन्दगी छोड़ देने को तैयार थे.

Source: Advantages

वैज्ञानिकों का कहना है कि हमारा Mood कैसा होगा ये Endorphin और Oxytocin Hormones पर निर्भर करता है. Exercise, Activities करने से ये Hormones Secret होते हैं और ट्रैवलिंग से भी वो Hormones Secret होते हैं.

हैप्पी ट्रैवलिंग!