छोटे मगर ख़तरनाक जीवों में शामिल बिच्छू को अपने नज़दीक देख किसी की भी डर से चीख़ निकल सकती है. 8 पैरों वाला बिच्छू देखने में किसी दैत्य से कम नहीं लगता. वहीं, इसमें मौजूद ज़हर इसे ख़तरनाक बनाने का काम करता है. वैसे बिच्छू से जुड़ी और भी कई सारी बातें हैं, जिनके बारे में अधिकतर लोगों को पता नहीं रहता है. उनमें से कुछ दिलचस्प बातें हम आपके साथ साझा करने जा रहे हैं. हमारे साथ जानिए बिच्छू से जुड़े सबसे चौंका देने वाले फ़ैक्ट्स. 

1. ले सकता है जान और बचा सकता है ज़िंदगी 

scorpion
Source: wikipedia

बिच्छू का ज़हर व्यक्ति की जान लेने के अलावा उसकी जिंदगी को बचा भी सकता है. ऐसा माना जाता है कि बिच्छू के ज़हर में कुछ ख़तरनाक कंपाउंड के साथ-साथ Neurotoxin भी पाया जाता है, जो व्यक्ति के नर्वस सिस्टम को डैमेज कर सकता है. वहीं, बिच्छू की ख़तरनाक प्रजाति का ज़हर लकवे के साथ-साथ सांस लेने में दिक़्क़त, धड़कनों का संतुलन बिगाड़ने व कई मामलों में मौत का कारण भी बन सकता है. 

इसके अलावा, ऐसा माना जाता है कि इसका ज़हर व्यक्ति के लिए दवा का भी काम कर सकता है. ऐसा कहा जाता है कि एशियन प्रजाति के बिच्छूओं में एंटीमाइक्रोबियल प्रभाव पाया जाता है, जो बैक्टीरिया और फ़ंगस के ख़िलाफ़ लड़ने का काम कर सकता है. वहीं, इसमें एंटीइंफ्लेमेटरी प्रभाव के होने की बात कही गई है, जो गठिया की समस्या में फ़ायदेमंद हो सकता है.  

2. ज़रूरत के हिसाब से छोड़ता है ज़हर  

scorpion sting
Source: onmanorama

जानकर हैरानी होगी कि कितनी मात्रा में ज़हर छोड़ना है बिच्छू इस प्रक्रिया को नियंत्रित कर सकता है. वहीं, कभी-कभी वो बिना ज़हर का इस्तेमाल किए ही शिकार करता है. 

3. ज़हर में होते हैं कई प्रकार के टॉक्सिन  

scorpion
Source: ktar

बिच्छू की सभी प्रजातियों में ज़हर पाया जाता है, लेकिन ज़हर में मौजूद टॉक्सिन अलग-अलग होते हैं. जैसे, बिच्छू की लगभग 2 हज़ार प्रजातियां पाई जाती हैं, लेकिन उनमें मात्र 30-40 प्रजातियों के ज़हर में वो टॉक्सिन पाए जाते हैं, जो इंसान को मार सकते हैं. वहीं, कुछ टॉक्सिन ऐसे हैं जो सिर्फ़ घातक प्रभाव छोड़ सकते हैं मार नहीं सकते.  

4. बिना खाए पिए  

छोटे बिच्छू अक्सर कीड़े-मकोड़े या मकड़ी को अपना निशाना बनाता हैं. वहीं, कुछ बड़े बिच्छू छिपकली व चूहों को अपना शिकार बना लते हैं. इसके अलावा, बिच्छू भोजन को केवल तरल रूप में ही ग्रहण कर सकते हैं. इसलिए, वे अपने शिकार को पचाने के लिए एंजाइम का उपयोग करते हैं, फिर उसे अपने छोटे मुंह में चूसते हैं. वहीं, इनका मेटाबॉलिक स्तर (भोजन से उर्जा प्राप्त करने की शारीरिक प्रक्रिया) कम होता है, जिस वजह से ये एक बार शिकार करने के बाद लंबे समय तक बिना खाए रह सकते हैं. 

5. UV Light में ग्लो करते हैं  

Scorpion in UV LIGHT
Source: kidsdiscover

बिच्छू के शरीर की बाहरी सतह में फ्लोरोसेंट रसायन पाए जाते हैं. यही वजह कि जब वे यूवी लाइट के संपर्क में आते हैं, तो उनका शरीर ग्लो करता है.  

6. बिच्छू अंडे नहीं देते  

baby scorpion
Source: reddit

बहुतों को शायद इस बारे में जानकारी नहीं होगी कि बिच्छू अंडे नहीं देते हैं. वो इंसानों की तरह ही बच्चों को जन्म देते हैं. ये Viviparous श्रेणी में आते हैं. 

7. संभोग करने से पहले करते हैं डांस 

हर जीव की भांति बिच्छू भी संभोग करते हैं. लेकिन, इससे जुड़ी एक विचित्र बात ये है कि वो संभोग करने से पहले नृत्य करते हैं. दरअसल, जब मादा बिच्छू मिलन के लिए राज़ी हो जाती है, तो नर बिच्छू मादा बिच्छू को पकड़कर घूमता है, जैसे मानों उसके साथ नृत्य कर रहा हो.  

8. बिच्छू इंसेक्ट नहीं है  

scorpion
Source: wallpaperup

बहूतों को लगता होगा कि बिच्छू भी इंसेक्ट की श्रेणी में आता है, लेकिन ऐसा नहीं है. बिच्छू Arachnids श्रेणी के जीव हैं. इस श्रेणी में मकड़ी भी आती है.

9. मां और बच्चे  

scorpion
Source: imgur

बिच्छू की कई प्रजातियां में बच्चे अपनी मां की पीठ पर एक पौष्टिक जर्दी थैली को अवशोषित करते हैं, फिर कुछ दिनों बाद मां के शरीर से अलग हो जाते हैं. वहीं, कई मामलों में मादा बिच्छू शिकार को मारकर अपने बच्चे को भोजन कराती है. ऐसे स्थिति में बच्चे मां की देखरेख में लगभग दो साल तक भी रह सकते हैं.  

10. सबसे पुराने जीवों में से एक  

scorpion
Source: treehugger

ऐसा माना जाता है कि बिच्छू धरती के सबसे पुराने जीवों में से एक हैं और आज भी उनका अस्तित्व बना हुआ है. कई प्राचीन जीवाश्म भी मिले हैं, जो इस बात की ओर इशारा करते हैं.