आज कल अधिकतर घरों में पानी को साफ़ करने के लिए RO लगा ही होता है. मगर क्या आपको पता है कि इससे जितना पानी हमें शुद्ध होकर मिलता है, उससे कहीं ज़्यादा पानी वेस्ट हो जाता है. इसमें कोई दो राय नहीं है कि RO के इस्तेमाल से पानी भी बहुत ज़्यादा बर्बाद होता है और ये भी कारण बन सकता है तेज़ी से कम हो रहे वाटर लेवल का. पर सोचने वाली बात ये भी है कि जब RO नहीं थे या फ़िल्टर नहीं थे तब लोग पानी को साफ़ कर पीने योग्य बनाने के लिए क्या तरीके अपनाते थे.

Source: Common Ground

आज हम आपके लिए पानी को साफ़ करने के कुछ घरेलू नुस्खे लेकर हैं. इन तरीकों को अपनाकर आप शुद्ध पानी हासिल कर लेंगे और पानी की बर्बादी भी नहीं होगी.

1. निर्गुंडी/ पानी की पत्ती(Vitex Negundo)

Source: nif.org.in

एक घड़े में पानी भरकर उसमें निर्गुंडी की पत्तियां डालकर 35 मिनट के लिए रख दें. इसके बाद इस पानी को पीने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है.

2. निर्मली के बीज(Strychnos Potatorum)

Source: Asklepios Seeds

निर्मली के पके हुए फलों को मसलकर पानी में मिला दें. इसके बाद इसे 2-3 घंटे के लिए छोड़ दें. आपके लिए शुद्ध पानी तैयार है.

3. दही

Source: lifestyletips.in

मध्य प्रदेश के आदिवासी पानी को शुद्ध करने के लिए दही का उपयोग करते हैं. वो पहाड़ से गिरते पानी को एक गड्ढे में इकट्ठा करते हैं. फिर इसमें एक कप दही मिला देते हैं. दही पानी में मौजूद बैक्टीरिया आदि को अपनी ओर आकर्षित कर लेता है. कुछ समय बाद पानी की ऊपरी सतह को बर्तनों में भर लिया जाता है.

4. खस-खस और दही

Source: punjabkesari.in

पानी को शुद्ध करने के लिए आप दही के साथ खस-खस के बीज भी डाल सकते हैं. खस-खस में भी पानी को साफ़ करने के गुण होते हैं.

5. सहजन और तुलसी

Source: samvad.in

पानी के मटके में सहजन की फलियां और तुलसी के पत्ते मिला कर रख दें. दूषित पानी को साफ़ करने का ये एक बेहरतीन उपाय है.

6. जामुन और अर्जुन की छाल

Source: jantaserishta.com

दूषित पानी में जामुन और अर्जुन के पेड़ की छाल के साथ कुछ तुलसी की पत्तियां डाल कर रात भर के लिए रख दें. सुबह इस पानी को सूती कपड़े से छानकर पियें.

7. सूर्य की किरणें

Source: Video Blocks

दूषित पानी को धूप में रख दें. सूरज की अल्ट्रा वायलेट किरणें इसमें मौजूद अशुद्धियों और कीटाणुओं को ख़त्म कर देंगी. इस पानी को शाम को पीने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं.

8. टमाटर और सेब के छिलके

Source: Laughing Colours

टमाटर और सेब के छिलकों को एल्कोहल में 2-3 घंटे के लिए रखें. फिर इन्हें निकालकर धूप में सुखा लें. सूखने के बाद इन छिलकों को पानी में डाल दें. 3-4 घंटे बाद इस पानी को छानकर पिया जा सकता है.

9. केले का छिलका

Source: punjabkesari.in

केले के छिलके में पानी में मौजूद तांबे और शीशा जैसी धातुओं को ख़त्म करने के गुण होते हैं.

10. नींबू का रस

Source: Patrika

नल के पानी को शुद्ध करने के लिए आप नींबू के रस का इस्तेमाल कर सकते हैं. पानी में मौजूद बैक्टीरिया इससे 30 मिनट में गायब हो जाएंगे.

हैं न कमाल की टिप्स. तो इन्हें आजमाओ और पानी को बर्बाद होने से बचाओ.

इस तरह के और आर्टिकल पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.