भारतीय और खाना साथ-साथ ही चलते हैं. जहां एक तरफ़ हम व्रत-उपवास का पूरी निष्ठा से पालन करते हैं वहीं दूसरी तरफ़ पेट पूजा को भी बहुत बड़ा पुण्य ही समझते हैं. ये कहना अतिश्योक्तिन ही होगी कि दुनिया के सारे व्यंजन एक तरफ़ और भारतीय व्यंजन एक तरफ़. इतिहास में खाने से जुड़ी कई कहानियां हैं, जहां खाने के नाम पर राज्य बसाये गये, युद्ध लड़े और जीते गये. आज भी खाने के नाम पर रोज़ हर घर में छोटा सा युद्ध आज भी हो ही जाता है.

ये भी पढ़िए- ये हैं वर्ल्ड की सबसे अजीबो-गरीब डिशेज़, इनके बारे में जानकर मुंह में पानी नहीं उल्टी आ सकती है 

भारत में ऐसे कई अजीबो-ग़रीब चीज़ें भी पकाई और खाई जाती हैं जिनका नाम सुनकर कुछ भी खा जाने वाले Bear Grylls को बी झटका लग सकता है-  

1. Eri Polu 

Source: Times of India

सिल्क की साड़ियां तो देखी ही होंगी और उम्मीद करते हैं ये भी पता होगा कि सिल्क की साड़ियां सिल्कवर्म (Silkworm) से बनती हैं. असम में Silkworm Pupae को खाया जाता है. Eri Silkworm जब Cocoon बना लेता है जब इसका इस्तेमाल होता है. इसे Khorisa (बांस की एक डिश) के साथ परोसा जाता है.

 2. Phan Pyut 

Source: Folo Mojo

भारत में आलु का सेवन बड़ी मात्रा में किया जाता है, ग़ौरतलब है कि ये विदेश से अपने देश में आया. उत्तर-पूर्वी भारत के कुछ इलाकों में आलु को सड़ाकर, Phan Pyut बनाया जाता है. लोग इसे बड़े चाव से खाते हैं. 

3. Sorpotel 

Source: Masala Herb

ये गोआ कि मशहूर डिश है. पुर्तगाल से आई ये डिश अब गोआ कुज़ीन (Cuisine) का हिस्सा बन गई है. ये व्यंजन Pork Offal (सुअर के अंदरूनी हिस्से) से बनाया जाता है. सुअर के वो अंग जो फेंक दिये जाते है, उससे ये डिश बनाई जाती है. 

4. Baby Shark Curry

Source: Flavours of My Kitchen

 नाम से समझा जा सकता है कि ये किसका मांस होगा. गोआ कुज़ीन (Goan Cuisine) की बेहद ख़ास डिशेज़ में से एक है Baby Shark Curry. ये बहुत महंगी मिलती है लेकिन स्थानीय निवासी इसे काफ़ी पसंद करते हैं. 

5. Red Ant Chutney 

Source: Home Grown

भारतीय खाना चटनी के बिना पूरा नहीं लगता. तीखी, खट्टी-मीठी चटनी तो कई बार चखी होगी लेकिन क्या कभी लाल चींटियों की चटनी के बारे में सुना है? छत्तीसगढ़ के बस्तर क्षेत्र में लाल चींटियों की चटनी, चापड़ा बनाई जाती है. लाल चींटियों को सुखाया जाता है और उन्हें नमक, मिठास और मसालों के साथ पीसा जाता है. 

6. Jadoh 

Source: Bumppy

मेघालय में रहने वालै जैंतिया जनजाति (Jaintia Tribe) के लोग ये व्यंजन खाते हैं. ये व्यंजन सुअर या चिकन के खून के अंदरूनी हिस्सों से पकाया जाता है. खून और आंतों के साथ पकाकर, इसे पुलाओ के साथ खाया जाता है. 

7. Siri or Mudiya

Source: Adequate Travel

ये एक Traditional डिश है और पूर्वी भारत में कई जगहों पर खाया जाता है. बकरे के सिर को पूरा ही चूल्हे पर भूना जाता है. इसके बाद उसकी त्वचा, बाल आदि हटाकर, काटा जाता है. मसालों के साथ पकाकर इसे खाया जाता है. 

 8. Nahkham 

Source: Nomadi Curry

मेघालय की गारो जनजाति (Garo Tribe) की पसंदीदा डिशेज़ में से एक है Nankham. ये व्यंजन सूखी मछली, सब्ज़ियां और Distilled Ash से बनाया जाता है. इस व्यंजन से भी सड़ी हुई बू आती है. 

9. Tilli

Source: Food Venturo

पुणे की सड़कों पर मिलता है ये स्नैक (Snack). भैंसे की Spleen से बनता है ये व्यंजन. इसे मसालों के साथ भूना या Grill किया जाता है. Iron की अधिक मात्रा होने के कारण कई मांसाहारी इसे पंसद करते हैं.

10. Frog Legs 

Source: Its Goa

मेंढक की टांग. ये फ़्रेंच खाद्य काफ़ी वक़्त से भारतीय प्लेट का हिस्सा रहा है. भारत के कई हिस्सों में ये व्यंजन मिल जायेगा. सिक्किम में इसे चाव से खाया जाता है और लेपचा (Lepcha) समुदाय की लोगों की मानें तो इसमें पेट को सही रखने के लिये कई न्यूट्रिएंट्स(Nutrients) होते हैं. Indian Bullfrog को Jumping Chicken भी कहा जाता है और ये गोवा में खाया जाता है

 11. Doh Khlieh 

Source: On His Own Trip

ये व्यंजन मेघालय में बनाया जाता है. इस डिश में प्याज़, मिर्च और पॉर्क (Pork) होता है. इस डिश को सूअर के दिमाग़ से गार्निश (Garnish) किया जाता है. 

12. Bhunni 

Source: Ibry

उत्तराखंड के गढ़वाल क्षेत्र का एक डिश है Bhunni. इसे बकरे की आंत, कलेजा, पेट और खून और मसालों के साथ बनाया जाता है. 

अगर इस तरह की किसी डिश से परिचित हो तो कमेंट बॉक्स में बताओ.