जितना ज़रूरी एक्टिव होकर काम करना है, उतना ही महत्वपूर्ण सोना भी है. सोते समय शरीर हमारे सिस्टम को एक तरह से रिपेयर कर रहा होता है. मगर सिर्फ़ रिपेयर ही नहीं, रात को हमारे शरीर में और भी कई तरह की गतिविधियां होती हैं जो थोड़ी अजीब और रहस्मयी हैं. आइए, जानते हैं उनके बारे में: 

1. रात को सोते समय आपका गुर्दा या किडनी धीमी गति से काम करते हैं. जिसकी वजह से ही आपको रात में अमूमन पेशाब करने के लिए नहीं उठना पड़ता है.  

health

2. ये सुनने में डरावना लग सकता है मगर रात को सोते समय हमारी मांसपेशियां अस्थायी रूप से लकवा मार जाती हैं. वैज्ञानिकों का कहना है कि यह अच्छी बात है ताकि हम अपना देखते वक़्त उनपर कोई शारीरिक प्रतिक्रिया न दें. 

henryford

ये भी पढ़ें: कई घंटों, दिनों और महीनों तक न सोने के हो सकते हैं भयानक After Effects. जानना चाहोगे कैसे-कैसे? 

3. आपकी सूंघने की क्षमता रात को कम हो जाती है. इस कारण फ़ायर अलार्म बने थे. हालांकि, आवाज़ होने पर आप तुरंत उठ जाएंगे. 

healthline

4. जब आप आराम करते हैं तो आपके शरीर को कड़ी मेहनत करने की आवश्यकता नहीं होती है इसलिए आपका हृदय तंत्र या Heart Rate धीमा हो जाता है.  

medicalnewstoday

5. ये मुमकिन है कि सोते समय आप ज़्यादा गैस पास करते हों. ऐसा इसलिए क्योंकि उस समय हमारा शरीर एकदम ढीला और आराम से होता है.  

6. जब आप सोते हैं तो आप थोड़े से लंबे हो जाते हैं. क्योंकि आपके रीढ़ की हड्डी रिपेयर होती है और सीधी हो जाती है. सोते समय उस पर शरीर का कोई भार नहीं पड़ रहा होता है.  

healthline

7. ऐसा कई बार होता है कि हम एक ही सपना लगातार कई रातों तक देखते हैं. मनोवैज्ञानिकों का मानना है कि ऐसा इसलिए होता है क्योंकि हमारा दिमाग़ दिन में घटी हुई किसी घटना की तरफ़ आपका ध्यान खींचना चाहता है जो आपने नज़रअंदाज़ कर दी होगी.  

thehealthy

7. सोते समय हमारे शरीर का तापमान 1 से 2 फ़ारेनहाइट तक गिर जाता है क्योंकि उस समय हम अपनी ऊर्जा बचा रहे होते हैं.  

indiatimes

9. आपने कई बार ऐसा सपना देखा होगा जिसमें आप गिर रहे हैं. आप अकेले नहीं हैं जिसने ऐसा कुछ महसूस किया है. लगभग 70% लोग ऐसा सपना देखते हैं. अभी तक ये नहीं पता चल पाया है कि आख़िर ऐसा क्यों होता है. लेकिन National Sleep Foundation के हिसाब से सोते समय हमारे शरीर का नर्वस सिस्टम थोड़ा धीमा पड़ जाता है जिसकी वजह से ऐसा लगता है.  

menshealth

10. कई लोग सोते समय चलते हैं. वैज्ञानिक अभी तक इसका असल वजह नहीं पता लगा पाए हैं. मगर सोते समय चलना डिप्रेशन, स्ट्रेस या बुख़ार की वजह से हो सकता है.  

ये भी पढ़ें: सोते हुए लोगों की ये 46 फ़नी फ़ोटोज़ देखकर आपको नींद नहीं, बल्कि हंसी आएगी 

11. दूसरा है, सोते समय बोलना. ऐसे तो सोते समय हमारा मुंह और स्वरतंत्री (Vocal Chords) निष्क्रिय हो जाती है. मगर कई बार ऐसा नहीं होता है तो हमारे मुंह से सोते समय शब्द निकल जाते हैं. कई बार हम सोते समय भी इसलिए बोलते हैं क्योंकि हम नींद के एक पड़ाव से होकर दूसरे में जा रहे होते हैं. हालांकि, जो लोग सोते समय अक्सर बोलते हैं उन्हें यह एक तरह की बिमारी होती है. कभी-कभी बोलना आम होता है, इसमें चिंता करने जैसा कुछ नहीं होता है.