What Happens When Cruise Ships Retire in Hindi: रोज़ाना सैकड़ों क्रूज़ जहाज़ विश्व के एक देश से दूसरे देश तक ट्रैवल करते हैं. ये बड़े जहाज़ होते हैं जो एक साथ हज़ारों यात्रियों को ले जाने में सक्षम होते हैं. लेकिन, एक वक्त आता है जब इन क्रूज़ जहाज़ों को रिटायर कर दिया जाता है. लेकिन दोस्तों, क्या आपको पता है कि जब एक क्रूज़ जहाज़ को रिटायर कर दिया जाता है, तो उसका फिर क्या होता है? अगर नहीं, तो चलिये इस ख़ास लेख में हम आपको इसी विषय में जानकारी देते हैं. 

आइये, अब विस्तार से जानते हैं कि पुराने जहाज़ों (What Happens When Cruise Ships Retire in Hindi) का क्या किया जाता है?  

Retired cruise ship
Image Source: thepointsguy

30 से 40 साल बाद रिटायर 

What Happens When Cruise Ships Retire in Hindi: अमूमन एक क्रूज़ जहाज़ क़रीब 30 से 40 वर्ष की सेवा के लिये बनाया जाता है, इसके बाद यात्रियों की सुरक्षा के लिहाज़ से इसे रिटायर (How Long Do Cruise Ships Trips Last) कर दिया जाता है, क्योंकि एक लंबे वक़्त (Cruise Ship Retirement Age) के बाद ये पहले की तरह स्मूद नहीं रह पाते हैं.

आइये, नीचे विस्तार से जानते हैं What happens to old cruise ships?

बेच दिया जाता है 

Old Ship
Image Source: usatoday

What Happens When Cruise Ships Retire in Hindi: बड़ी शिपिंग कंपनियां अपने रिटायर हुए क्रूज़ जहाज़ों को छोटे कॉर्पोरेशन को बेच देती हैं. इसके बाद छोटे कॉर्पोरेशन इन्हें कुछ सालों तक ठीक से चलाने के लिए इनकी ज़रूरी मरम्मत और री-ब्रांडिंग करते हैं. 

कुछ जहाज़ टूरिस्ट अट्रैक्शन बन जाते हैं 

Alizabeth 2 ship
Image Source: traveltriangle

What Happens to Old Ship in Hindi: कई मामलों में पुराने जहाज़ों को टूरिस्ट अट्रैक्शन बन दिया जाता है. हालांकि, ऐसा बहुत ही कम देखा जाता है. ऐसे बहुत से जहाज़ हैं जिन्हें पर्यटकों को लिये पुनर्स्थापित किया गया है. एक लंबी सेवा देने के बाद एलिजाबेथ 2 जहाज़ को दुबई में एक तैरते हुए होटल के रूप में उपयोग किया जाता है.  

जहाज़ को नष्ट कर दिया जाता है 

OLD ship
Image Source: YouTube

जब पुराने जहाज़ों को ख़रीदने की मांग बहुत कम होती है, तो उन्हें स्क्रैप यानि नष्ट करने के लिए बेच दिया जाता है. स्क्रैप के लिए इन जहाज़ों को Ship Breaking Yard भेजा जाता है. क्रूज जहाज़ों को नष्ट करने के लिए अधिकांश शिपयार्ड तुर्की, भारत और पाकिस्तान में हैं. इनमें भारत का ‘अलंग’ सबसे बड़ा माना जाता है. इसकी तटरेखा क़रीब 10 मील तक फैली है. 

जहाज़ को ध्वस्त करने से पहले कंपनी जहाज़ से मौजूद बेचने योग्य चीज़ों को निकाल लेती है और फिर उन्हें बेच दिया जाता है. वहीं, जो चीज़ कंपनी जहाज़ में ही छोड़ देती है उसे स्थानीय स्तर पर बेच जाता है. इसमें टॉयलेट से लेकर झूमर व कुर्सियां तक शामिल हैं. 

वहीं, जहाज़ को पूरी तरह नष्ट करने से पहले उसमें मौजूद टॉक्सिक पदार्थों को भी निकाल लिया जाता है. 

कुछ जहाज़ ऐसे ही छूट जाते हैं 

Abandoned ship
Image Source: Twitter

कुछ जहाज़ ऐसे भी होते हैं जिन्हें शातिपूर्ण तरीक़े से रिटायरमेंट नहीं मिल पाती है, वो अपने पुराने ढांचों के साथ समंदर के किसी कोने में पड़े रहते हैं. इसके दो उदाहरण American Star और World Discover जहाज़ हैं. ये दोनों जहाज़ दुर्घटनाग्रस्त हो गए थे. 

डाइवर्स स्पॉट के लिये डूबा दिया जाता है

Skunking Ship
Image Source: BBC

रिटायरमेंट के बाद कुछ जहाज़ों को जानबूझकर डूबा दिया जाता है ताकि वो डाइवर्स स्पॉट बन सकें. ऐसा डाइवर्स के लिये कुत्रिम चट्टान बनाने के लिये किया जाता है, इसमें अधिकतर नेवी के जहाज़ शामिल होते हैं.