कान शरीर के सबसे संवेदनशील अंगों में से एक है. कोई भी छोटी-सी चीज़ या पानी की एक बूंद अगर कान में चली जाए, तो असहजता शुरू हो जाती है. इसलिए, कान से जुड़ी किसी भी चीज़ को गंभीरता से लेना जरूरी है. यही वजह है कि हम आपको 'कान के मैल' के बारे में बताने जा रहे हैं. बहुत से लोग होंगे जिन्हें पता नहीं होगा कि 'कान का मैल' क्या होता है और इसे निकालने के सबसे सुरक्षित तरीक़े क्या-क्या हो सकते हैं. इन सभी बातों का जवाब हम आपको इस आर्टिकल में देंगे.   

क्या है कान का मैल?  

ear wax
Source: express

कान का मैल या कर्णमल जिसे अंग्रेजी में Earwax और क्षेत्रीय बोली में खूंट, ठेक और खोंट कहा जाता है. बहुत से लोग समझते हैं कि यह कान में प्रवेश करने वाली गंदगी होती है, लेकिन ऐसा नहीं है. दरअसल, यह कान के अंदर मौजूद Glands से निर्मित होता है और समय-समय पर इसका रिसाव प्राकृतिक रूप से होता रहता है.   

कान का मैल करता है कई ज़रूरी काम    

ear cleaning
Source: verywellhealth

कान के मैल को सिर्फ़ गंदगी समझने की भूल न करें. आपको जानकर हैरानी होगी कि यह कई ज़रूरी काम करता है. यह कान के अंदर नमी को बनाए रख ड्राईनेस के जोखिम को कम करता है. बाहरी गंदगी से कान को सुरक्षित रखता है. साथ ही इसमें कुछ उपयोगी रसायन होते हैं, जो कान को संक्रमण से बचाने में मदद करते हैं. साथ ही यह कान के पर्दे के लिए एक सुरक्षा कवच के रूप में काम करता है.

लेकिन, बन सकता है समस्या    

ear wax cleaning
Source: floridaentcare

कुछ मामलों में कान का मैल हमारे लिए समस्या का कारण बन सकता है. जैसे अगर यह ज़्यादा मात्रा में बनने लगे या सूखकर ठोस आकार ले ले, तो इससे सुनने में दिक़्क़त हो सकती है, कान में दर्द हो सकता है और दिन भर असहजता बनी रह सकती है.  

भूल से भी इन चीज़ों से कान साफ़ न करें 

कई बार लोग कान को साफ़ करने के लिए किसी भी चीज़ का इस्तेमाल करने लगते हैं, लेकिन ऐसा नहीं करना चाहिए. आइये, नीचे जानते हैं कान साफ़ करने की असुरक्षित चीजों के बारे में, जिनका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए :  

पेन या पेंसिल

pencil
Source: penpaperpencil

कई लोगों को आदत होती है कि वो पास में रखी किसी भी नुकीली चीज़ से कान साफ़ करने लगते हैं, जैसे पेन या पेंसिल. भूल से भी इन चीज़ों का इस्तेमाल न करें. इससे गंभीर चोट लग सकती है.   

कॉटन बड्स  

 cotton buds
Source: independent.co.uk

डॉक्टरों का कहना है कि मार्केट में उपलब्ध कॉटन बड्स से भी कान को साफ़ नहीं करना चाहिए. दरअसल, यह कान में जमे मैल को अंदर धकेलने का काम करता है. इससे मैल ऐसी जगह जाकर चिपक सकता है, जहां से इसे निकालना मुश्किल भरा हो सकता है.   

ईयर कैंडल्स  

ear candle
Source: medicalnewstoday

ये बाज़ार में मिलने वाला एक ईयर क्लीनिंग प्रोडक्ट है, जो दावा करता है कि इससे कान साफ हो जाएगा. लेकिन, यह जोखिम भरा हो सकता है. इसलिए, भूल से भी इस उत्पाद का उपयोग न करें.  

कान साफ़ करने के सुरक्षित तरीक़े  

ear cleaning
Source: okoa

कान को साफ़ करने के सुरक्षित तरीक़े ये हो सकते हैं : 

1. अगर आपको कान साफ़ करवाना है, तो ENT Doctor से Appointment लें और उनसे कान साफ़ करवाएं.
2. अगर कान के मैल का रिसाव कान के द्वार तक होने लगे, तो गिले सूती के कपड़े से कान के द्वार वाले हिस्से को साफ़ कर सकते हैं.
3. कॉटन बड्स से कान के द्वार वाले हिस्से को साफ़ किया जा सकता है, लेकिन इसे भूल से भी अंदर न डालें. 
4. डॉक्टरी सलाह और निर्देशों से Earwax Softener का इस्तेमाल किया जा सकता है.
5. डॉक्टरी सलाह और निर्देशों पर सिरींजिंग यानी पानी वाली तकनीक से कान की सफाई की जा सकती है. 

कुछ स्थितियों में तुरंत डॉक्टर से मिलना चाहिए   

ear pain
Source: medicinenet

कान में मैल जमने के साथ-साथ अगर नीचे बताई जा रही स्थितियां सामने आती हैं, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें:   

1. कान से कम सुनाई देना 
2. कान से निरंतर ईयर वैक्स का रिसाव 
3. चक्कर आना 
4. लगाता घंटी की आवाज़ सुनाई देना 
5. कान में असहनीय दर्द होना