चश्मे(Spects/Glasses) आजकल बड़ों से लेकर बच्चों तक को लग रहे हैं. जिन लोगों की नज़र कमज़ोर हो जाती है उन्हें इनकी ज़रूरत पड़ती है. चश्मे की मार्केट अब इतनी बड़ी हो गई है कि ये नज़दीकी बाज़ार से लेकर ऑनलाइन तक ऑडर होने लगे हैं. मार्केट में नज़दीक के, दूर के, धूप के और सनग्लासेस जैसी चश्में की कई वैरायटी उपलब्ध हैं.

healthline

जो लोग चश्मा पहनते हैं उन्होंने अपने Glasses के फ़्रेम में एक नंबर लिखा देखा होगा. ये नंबर आपके चश्मे के फ़्रेम के बारे में बहुत कुछ बताता है. चलिए जानते हैं कि इन नंबर्स का आख़िर मतलब क्या होता है?

ऑनलाइन चश्मा ऑर्डर करते समय ये बहुत काम आते हैं

titaneyeplus

आपके चश्मे के फ़्रेम पर कुछ ऐसे नंबर लिखे हुए होंगे: 53-16-140. चलिए इन्हें AA-BB-CCC मान लेते हैं. अगर आप ऑनलाइन चश्मा ख़रीदते हैं तो ये नंबर आपके बहुत काम के हैं और इसकी जानकारी आपको होनी चाहिए. AA पर जो संख्या लिखी होती है वो आपके आंखों के आकार का साइज़ बतलाती है. ये 42-58MM के बीच होता है. जितना ज़्यादा नंबर उतना ही बड़ा आपकी आंख का साइज़ होगा.

ये भी पढ़ें: चश्मा लगा कर टशन मारना है, तो आपके Face Cut के हिसाब से लाये हैं ये 5 स्टाइलिश Sunglasses 

Vision

BB पर जो नंबर लिखे होते हैं वो दोनों लेंस के बीच की दूरी को दर्शाता है. आमतौर पर ये 16-24MM के बीच होता है. आख़िर में जो CCC पर अंक लिखे होते हैं वो ये फ़्रेम की लंबाई के बारे में बताते हैं. अमूमन ये 130-150MM के बीच होता है. जितना बड़ा आपका सिर होगा इसका साइज़ भी उसी हिसाब से बढ़ जाएगा ताकी चश्मा आपके सिर पर आसानी से फ़िट हो सके.

सबकी आंखों का आकार होता है अलग

medicalnewstoday

जिस प्रकार हर व्यक्ति की बॉडी का साइज़ अलग-अलग होता है वैसे ही उनकी आंखोंं का आकार भी भिन्न होता है. बहुत से लोग समझते हैं कि सबकी आंखों का आकार एक जैसा ही होगा, इसलिए वो कोई चश्मा ऑर्डर कर देते हैं. ऐसा करने पर ग़लत फ़िटिंग वाला चश्मा आने की संभावना रहती है. इससे बचने के लिए आपको इन नंबर्स की जानकारी होना ज़रूरी है. 

अगली बार जब भी आप चश्मा ख़रीदें तो इस बात ध्यान रखना.