हंसी, ख़ुशी की बात है, लेकिन ग़लत जगह निकल जाए तो ससुरी बवाल है. आपके साथ भी ऐसा हुआ होगा. कोई आदमी बहुत सीरियसली अपना दुखड़ा रो रहा था और आप ख़िख़िया के हंस दिए हों. ऐसे समय लपड़ियाए जाने का बराबर ख़तरा बना रहता है.   

Source: tenor

हम आपकी ग़लत जगह निकली हंसी का दर्द जानते हैं. ये भी जानते हैं कि आप जानबूझकर ऐसा नहीं करते, बस ग़लत मौक़े पर हंसी का झोंका आपसे ये कलाकारी करा जाता है. यही लिए, आज आपको हंसी कंट्रोल करने के हम जबर उपाय बतलाने जा रहे हैं.  

हालांकि, इसके पहले ये समझ लेते हैं कि आख़िर काहे ग़लत मौके पर आपकी हंसी छूटती है. दरअसल, ग़लत जगह पर हंसी निकलना वास्तव में हंसना नहीं होता है. ये बस आपके बॉडी का डिफ़ेंस मैकेनिज़्म है, ताकि आप उस पल में जो चिंता, भ्रम, तनाव और असुविधा अनुभव कर रहे हैं, उसे कम कर सकें.  

Source: mentalfloss

एक तरह से हंसी आपको पॉज़िटिव रिएक्शन रिलीज़ करने में मदद करती है, ताकि आपका ध्यान ट्रॉमा और दर्द से हट सके. ये ऐसे इमोशन से बचाने में मदद करती है, जो हमें कमज़ोर बना सकते हैं. लेकिन अब इतना गहन ज्ञान किसी दुखी इंसान के आगे तो आप पेल नहीं सकते. ऐसे में कुछ उपाय हैं, जिनसे आप इस तरह के मौकों पर हंसी आने से रोक सकते हैं.  

1. अपने होंठ को चाटें या फिर काटें  

Source: baomoi

आप दोनों ही तरीकों को अपना सकते हैं. इससे आपकी हंसी कंट्रोल हो जाएगी. इसके अलावा, गहरी सांस लें, सिर हिलाइए या फिर अपने गाल को अंदर से काट भी सकते हैं. बहुत ज़्यादा हंसी छूटे तो ख़ुद को चिकोटी भी कांट सकते हैं.   

2. पेन को क्लिक करने लगें  

Source: dedrickkoh

अब ज़रूरी नहीं है कि कोई आपके आगे रोए पड़ा हो, तब ही आपके हंसी छूटे. नर्वस लॉफ़िग कुछ और सीरियस मौकों पर भी आ सकती है. मसलन, आपका बॉस आपको गरियाए रहा हो और आप हंस दें. ऐसे सिचुएशन में जुतियाए जाने से बचने के लिए पेन को क्लिक करें. दरअसल, ऐसा करने से आपका ध्यान डाइवर्ट होगा और आपकी हंसी कंट्रोल हो जाएगी.  

3. कमरे में मौजूद किसी एक रंग पर फ़ोकस करें  

Source: bbc

अब कभी-कभी किसी का दुख इतना अजीब भी सकता हे कि आप चाहकर भी हंसी न रोक पाएं. ऐसे में अपने दिमाग़ में कोई रंग सोचें और उसे कमरे में तलाश करें. गौर करें, वो रंग कमरे में कितनी बार आपके सामने आता है. ये बात सुनने में भले ही अजीब लगे, लेकिन है बहुत कारगर. क्योंकि ये एक तरह से आपका ध्यान हंसी से हटाकर दूसरी चीज़ पर शिफ़्ट कर देगा.  

4. मन में कुछ गुनगुनाने लगें  

Source: mashable

अब ये कुछ भी हो सकता है. गाना गा लो, एबीसीडी दोहरा लो, गुणा-भाग या फिर टेबल, जो भी हो मन में ही करने लगे. इसका उद्देश्य यही है कि आपका ध्यान हंसी आने के बजाय दूसरी जगह चला जाए.   

5. मुंह बंद कर हवा बाहर फ़ूंके  

Source: faceyogamethod

ब्रीदिंग तकनीक वास्तव में आपकी हंसी रोकने में जबर काम आती है. बस इसके लिए आपको अपने होंठों को टाइट से बंद करना होगा. फिर अपनी उंगलियों को भी कानों में घुसेड़ लें. अब मुंह से सांस बाहर की तरफ़ ज़ोर से छोड़ें. आपके मुंह पर प्रेशर बनने लगेगा. इसी के साथ आपकी हंसी का प्रेशर भी ख़त्म हो जाएगा.  

अब कभी ग़लत मौकों पर हंसी निकलने वाली हो, तो फिर इन उपायों का आज़मा कर देखें. फिर ज़िंदगी हंसी-ख़ुशी चलेगी.  

Source: Brightside