जयपुर के राजसी परिवेश को जानने और समझने के लिए हर साल दुनियाभर से लाखों पर्यटक यहां आते हैं. विदेशी टूरिस्ट यहां के आलीशान महलों को निहारने में ही पूरा महीना बिता देते हैं. जयपुर में वैसे तो कई बड़े महल व क़िले हैं, लेकिन जयपुर का श्रीनिवास रिसॉर्ट अपने आप में बेस्ट है.

srinivas jaipur
Source: buravi

अगर आप भी राजा-रजवाड़ों के शहर जयपुर में अपनों के साथ शाही अंदाज़ में सुकून के पल बिताना चाहते हैं, तो जयपुर का श्रीनिवास रिसॉर्ट आपके लिए बेस्ट रहेगा. ये रिसॉर्ट एक जमाने में जोधपुर के महाराज करण विजय सिंह का घर हुआ करता था. इसे अब एक लग्ज़री होटल में तब्दील कर दिया गया है.

srinivas jaipur
Source: architecturaldigest

महानगर के शोर-गुल से दूर आप 'श्रीनिवास रिसॉर्ट' में आराम के पल बिता सकते हैं. 7 सूइट वाली इस प्रॉपर्टी में एंटर करते ही आपको राजसी ठाट-बाट का अहसास होने लगेगा. इस रिसॉर्ट में आपको राजस्थानी वास्तुकला और अरावली रेंज की ख़ूबसूरत पहाड़ियों के दर्शन भी करने को मिलेंगे.  

srinivas jaipur
Source: architecturaldigest

'श्रीनिवास रिसॉर्ट' का फ़र्नीचर भी एंटीक है. इस रिसॉर्ट में कई लग्ज़री सूइट्स हैं, इन्हें आप अपने बजट के हिसाब से बुक कर सकते हैं. यहां एक विशाल और शानदार स्वीमिंग पूल भी है जिसमें आप स्विमिंग का लुत्फ़ उठा सकते हैं. इसके अलावा आपको यहां पर एक बड़ा गार्डन भी मिलेगा, जिसमें आप चाहें तो घुड़सवारी भी कर सकते हैं.

गेस्ट को परोसा जाता है शाही खाना

srinivas jaipur
Source: tripadvisor

इसके अलावा अगर 'श्रीनिवास रिसॉर्ट' के खाने की बात करें तो यहां के शाही पकवान देखते ही मुंह में पानी आ जायेगा. आप चाहें तो अपनी पसंद का खाना भी ऑर्डर कर सकते हैं. सुबह की शुरुआत आप टेरिस पर होने वाले योगा सेशन से कर सकते हैं. इसके लिए आपको मैनेजर को पहले से ही बताना होगा.  

कितनी है क्लासिक सूइट की एक रात की क़ीमत?

srinivas jaipur
Source: architecturaldigest

'श्रीनिवास रिसॉर्ट' के क्लासिक सूइट में एक रात बिताने के लिए आपको क़रीब 21,000 रुपये, जबकि रॉयल सूइट के लिए आपको 27,000 रुपये ख़र्च करने होंगे. जयपुर रेलवे स्टेशन से इसकी दूरी लगभग 20 किलोमीटर जबकि जयपुर एयरपोर्ट से दूरी 27 किलोमीटर है.

srinivas jaipur
Source: architecturaldigest

किंग साइज़ लाइफ़ क्या होती है इसका एहसास करना है तो आपको जयपुर के श्रीनिवास रिसॉर्ट ज़रूर जाना चाहिए.