सभी का मन छुट्टियों में कहीं बाहर जाने का होता है. लेकिन जैसे ही ये ख़्याल दिमाग में आता है, दो समस्याएं सबसे पहले सामने आ खड़ी होती हैं. पहली, लंबी छुट्टी मिलेगी तभी तो कहीं जाएंगे. ऐसी किस जगह जाऊं, जहां पैसे भी कम लगें और जगह भी अच्छी हो. इन दोनों समस्याओं का समाधान है Long Weekend. तारीखें हम बता रहे हैं जगह आप तय कर लीजिए.

29 मार्च-1 अप्रेल

छुट्टी - महावीर जयंती, गुड फ्राइडे

जगह - रणथम्बोर

क़िला, बाघ और सफ़ारी. बस इतना ही काफ़ी है इस सफ़र को सफल बनाने के लिए. इसके बावजूद रणथम्बोर के पास बहुत कुछ है दिखाने के लिए. अगर आप वाइल्ड लाइफ़ के शौक़िन हैं, तो बेझिझक यहां जाइए. इसके अलावा स्थानीय बाज़ार भी आकर्षण का केंद्र है.

28 अप्रेल-30 अप्रेल

छुट्टी- बुद्ध पूर्णिमा

जगह- कलिम्पॉन्ग

अभी-अभी देश में गर्मी के मौसम ने आहट देनी शुरू की है. ऐसे में पश्चिम बंगाल में कलिम्पॉन्ग हिल स्टेशन आपको प्रकृति के ख़ूबसूरत नज़ारे दिखा सकता है. यहां पुरानी-पुरानी इमारतें, चर्च और पार्क देखने को मिल जाएंगे. ये एक ऐसी जगह हैं, जहां आप सुकून की तलाश में जा सकते हैं. इस हिल स्टेशन पर आपका अलग-अलग सभ्यताओं और ज़ायकेदार पकवानों से भी सामना हो जाएगा.

15 जून-17 जून

छुट्टी- ईद-उल-फितर

जगह- कुद्रेमुख

कुद्रेमुख की गोद में कई प्राकृतिक तौफ़ें और पर्वत श्रृंखलाएं हैं, जिन्हें UNESCO विश्व धरोहर का दर्जा दे चुका है. जून का महीना यहां जाने के लिए श्रेष्ठ है. एक हिल स्टेशन पर आप जिन आकांक्षाओं के साथ जाते हैं, कुद्रेमुख के पास वो सबकुछ मौजूद है.

15 अगस्त-17 अगस्त

छुट्टी- स्वतंत्रता दिवस, पारसी नववर्ष

जगह- शिलौंग

शिलौंग के बारे में कहा जाता है कि वो ये स्थान 'पूरब का स्कॉटलैंड' है. इस जगह पर अभी भी ब्रितानी हुकूमत की छाप देखी जा सकती है. यहां की इमारतें और रेस्टोरेंट के मेन्यु में इसकी झलक देखने को मिलती है. 'उमियम' तलाब मानव निर्मित है. स्थानीय लोग इसे बारापानी नाम से जानते हैं. प्राकृतिक झरने यहां के टूरिज़म को बढ़ावा देने में मदद करते हैं.

24 अगस्त–26 अगस्त

छुट्टी- ईद-उल-जुहा, ओनम, रक्षाबंधन

जगह- बिकानेर

इस वक्त देश में मानसून के बादल मंडराते हैं. इस मौसम में बिकानेर में मौजूद होना ज़रूरी हो जाता है. रेत के टीले, डूबता सूरज, ऊंट की सवारी और रात में अलाव के पास दोस्तों का झुंड. राजस्थानी सभ्यता कभी अपने मेहमान को नाराज़ नहीं करती. बिकानेर के क़िलों की चर्चा विदेशों में भी है.

1 सितंबर–3 सितंबर

अवकाश- जन्माष्टमी

स्थान- कोवालम

केरल प्राकृतिक रूप से एक संपन्न राज्य है. यहां कई ख़ूबसूरत समुद्र तट हैं. यहां किसी एक बीच की बात करना, दूसरे बीच को कम आंकना जैसा होगा. इसके बावजूद यहां का Lighthouse Beach, Kovalam Beach, Hawa Beach पर्यटकों का पसंदीदा माना जाता है. कुछ जगहों पर आप बहुत कम ख़र्च में Surfing भी सीख सकते हैं.

13 सितंबर–16 सितंबर

अवकाश- गणेश चतुर्थी

स्थान- गोकर्ण

अगर गोवा की भीड़ आपको नहीं पसंद, फिर भी समुद्र का मज़ा चाहिए तो गोकर्ण जाइए. पब, ट्रेकिंग, बीच के अलावा महाबलेश्वर मंदिर का होना एक सुखद संयोग है. इस जगह पर दोस्तों के साथ जाने के बाद अफ़सोस नहीं होगा.

18 अक्टूबर – 21 अक्टूबर

अवकाश- राम नवमी, दशहरा

स्थान- कोहिमा

नागालैंड एक ख़ूबसूरत जगह है. इस छोटे से राज्य में ऐसी कई जगहें मौजूद हैं, जो पर्यटकों को लुभाती हैं. चारों ओर हरियाली और ऊपर नीला आकाश. पूरा राज्या ही पर्वत पर बसा हुआ है. कई खूबसूरत बगीचे, झरने और पार्क आपको दिन भर व्यस्त रखेंगे.

3 नवंबर – 11 नवंबर

अवकाश- धनतेरस, दिवाली, गोवर्धन पूजा, भाई दूज

स्थान- पोर्ट ब्लेयर

समुद्र की गोद में बैठा ये द्वीप, भारत के सबसे मशहूर पर्यटन स्थलों में से एक है.

अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में कई तरह के वॉटर स्पोर्टस और बीच मौजूद हैं. लंबी छुट्टी बिताने के लिए पोर्ट ब्लेयर एक अच्छी जगह हो सकती है.

22 दिसंबर- 25 दिसंबर

अवकाश- क्रिसमस

स्थान- खजुराहो

खजुराहो के बारे किसे नहीं पता. दसवी शताब्दी में बनी खजुराहो मंदिर हमारी सभ्यता की निशानी है. इन मंदिरों में आप कई कई दिन बिता सकते हैं. चारों ओर बेहद उम्दा किस्म की कारीगरी मौजूद हो, तो देखने वाला घर वापस नहीं जाना चाहता. ये मंदिर भारत के रौशन दिमाग और उन्नत ख़्याल का प्रतीक है.

छुट्टियां सामने हैं, आप क्यों पीछे हैं?