स्विट्ज़रलैंड दुनिया का ऐसा देश है, जहां घूमने का सपना हर कोई देखता है. इस ख़ूबसूरत देश में ऐसी कई चीज़ें हैं, जो किसी को भी अपनी तरफ़ आकर्षित कर सकती हैं. बर्फ़ से ढकी पहाड़ियां, विशाल फव्वारे, ख़ूबसूरत झीलें और स्विस चॉकलेट जैसी अनेक चीज़ें हैं, जो चुम्बक की तरह लोगों को स्विट्ज़रलैंड की तरफ़ खींचती हैं.

इन सबके अलावा अब एक वजह और है, जो पर्यटन के दीवानों को स्विट्ज़रलैंड जाने के लिए मजबूर करेगी. दुनिया के सबसे ख़ूबसूरत और लम्बे पुलों में से एक Europabruecke Hanging Bridge को आवागमन के लिए खोल दिया गया है. यहां पर पहले भी एक पुल था, जो 2010 में चट्टान गिरने के कारण क्षतिग्रस्त हो गया था. इस पुल ने उसी पुराने पुल की जगह ली है. 494 मीटर (लगभग आधा किमी) दूरी के इस पुल की ख़ूबसूरती देखते ही बनती है.

इस पुल पर पैदल चलते हुए आपको चारों तरफ़ फैले प्रकृति के अद्भुत नज़ारे दिखाई देंगे. Grachen और Zermatt को जोड़ने वाला ये पुल 85 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है. हवा में झूलते हुए इस पुल से Matterhorn, Weisshorn और Bernese Alps जैसे पहाड़ों की ख़ूबसूरती साफ़ दिखाई देती है.

चूंकि इस पुल की समुद्र तल से ऊंचाई लगभग 1600 से 2200 मीटर है, इसलिए यहां पर लोगों को सांस लेने में थोड़ी तकलीफ़ भी हो सकती है. लेकिन इसके चारों तरफ़ के लुभावने नज़ारों को देखते हुए, उस तकलीफ़ का ज़्यादा आभास नहीं होगा.

ज़मीन से 85 मीटर की ऊंचाई पर बने इस पुल को स्थानीय पर्यटन विभाग की तरफ़ से सबसे ऊंचा पुल बताया जाता है, लेकिन ये सच नहीं है. Reutte में 405 मीटर और ऑस्ट्रिया में 110 मीटर की ऊंचाई पर भी पुल बनाए गए हैं. हालांकि, इस बात में कोई सन्देह नहीं कि ये उन दोनों पुलों से कहीं ज़्यादा ख़ूबसूरत है.

SwissRope द्वारा इस शानदार पुल को मात्र 10 हफ़्तों में बनाया गया है. चूंकि ये पुल काफ़ी ऊंचाई पर स्थित है, इसलिए हवा के प्रभाव को कम करने के लिए इसमें एक विशेष तकनीक का प्रयोग किया गया है. 8 टन वज़न वाले इस पुल को संभालने के लिए मज़बूत रस्सी और तार का इस्तेमाल किया गया है.

अगर आप भी स्विट्ज़रलैंड जाने का प्लान बना रहे हैं, तो इस ख़ूबसूरत पुल को देखना मत भूलिएगा. 85 मीटर की ऊंचाई पर स्थित इस 494 मीटर लम्बे पुल पर चलना आपकी ज़िन्दगी के सबसे बेहतरीन अनुभवों में से एक साबित होगा.

Article Source: IndianExpress