मां के बनाये हुए उस स्वेटर से बचपन की अजीब-सी महक आती है. जब सर्दी शुरू होने पहले वो मेरी पसंद का ऊन लेकर बुनाई शुरू कर देती और हर साल मेरे पास एक नया स्वेटर हुआ करता था.

आज जब उन दिनों को याद करती हूं, तो एहसास होता है कि बुनाई की कला लगभग खो सी गयी है. एक ज़माना था जब नानी-दादी सर्दियों में सिलाई लिए हुए कुछ न कुछ बुनती रहती थीं. कभी किसी नए बच्चे के लिए टोपी और मोज़े, तो कभी पापा के लिए हाफ़ स्वेटर। मॉल से लाये हुए ब्रांडेड स्वेटर के आगे बुनाई के फंदे कब के छूट गए, इसका एहसास इन 60-70 साल पुरानी फ़ोटो को देख कर होता है.

1. 1900 की शुरुआत में लड़कियों को बुनाई मैडिटेशन की तरह सिखाई जाती थी. कुछ सीख रही हैं ये डच लड़कियां.

2. बुनाई का शौक अफ़्रीकी-अमेरिकी एक्टिविस्ट Sojourner Truth को भी था.

3. 1915 में लड़कियां फ़ोटो स्टूडियो में अपनी बुनाई की तस्वीरें भी खिंचवाती थी, जैसे ये स्कॉटिश लड़की.

4. Seattle की एक खूबसूरत युवती अपनी Knitting के साथ.

5. ये फ़ोटो इंग्लैंड की एक पोस्टकार्ड सीरीज़ का हिस्सा थी.

6. न्यू यॉर्क में हाई स्कूल के लड़के प्रथम वर्ल्ड वॉर के Soldiers के लिए बुनाई करते हुए.

7. Jerusalem के Women Institute में बुनाई करती लड़कियां.

8. न्यू यॉर्क की जेल में कैदियों को सिखाई जाती थी बुनाई, ये फ़ोटो 1915 की है.

9. लंदन की सड़कों पर ये टैक्सीड्राइवर भी कुछ फुर्सत के पल बुनता हुआ.

10. एक समय बच्चे सच में कुछ Recreational काम करते हुए, आज मोबाइल ने ये सब छीन लिया है.

11. पार्लर में बैठ कर आराम से स्वेटर बुनती ये महिलाएं.

12. साथ बैठ कर स्वेटर बुनने से ज़्यादा अच्छा कुछ नहीं हो सकता

13. एक समय सेलिब्रिटीज़ भी बुनाई करना जानते थे, जैसे मशहूर अमेरिकी एक्ट्रेस Betty Grable.

Source: Atlas Obscura