अकरम नक्क़ाश ने क्या ख़ूब फ़र्माया है:

इश्क़ इक ऐसी हवेली है कि जिस से बाहर

न कोई दरवाज़ा खुले और न दरीचा निकले

प्यार यानि हज़ारों रंगों का एहसास... मैं ठहरी रही, ज़मीन चलने लगी टाइप फ़ीलिंग... स्लो मोशन में हवाओं का चलना... वगैरह-वगैरह

हां तो ख़्वाबों के गलियों से बाहर आयें और ज़रा हक़ीक़त के आईना से सरोकार करें. इश्क़ में दुनिया ख़ूबसूरत लगती है या नहीं, पता नहीं, पर आपका वज़न ज़रूर बढ़ने लगता है, ये पता चला है एक नये शोध में.

Source- Maana Aksharam

15000 लोगों पर 9 साल तक ऑस्ट्रेलिया के Central Queensland University के कुछ वैज्ञानिकों ने शोध किया और सिंगल, तलाकशुदा लोगों से कपल्स का वज़न औसतन ज़्यादा पाया.

2005 से 2014 के बीच कई कपल्स और सिंगल लोगों के Body Mass Index को कंपेयर करके ये शोध किया गया.

Source- noon swoon app

वैज्ञानिकों ने ये भी पाया कि प्रेमी जोड़े ज़्यादा फल-सब्ज़ियों का सेवन करते हैं और उन्हें सिगरेट और शराब की लत लगने की संभावना भी कम रहती है. तो फिर वज़न बढ़ने की वजह क्या है? शोध की रिपोर्ट में कहा गया,

शादी या रिलेशनशिप के साथ कुछ बदलाव इंसानों में अपनेआप आ जाते हैं. जैसे ज़्यादा हेल्दी फ़ूड और फ़ैमिली के साथ खाना-पीना. आमतौर पर ऐसी अवस्था में ज़्यादा कैलरी का सेवन कर लेते हैं, जिससे वज़न भी बढ़ने लगता है.
Source- Express

इसके अतिरिक्त शोध में ये भी कहा गया कि अपनी मोहब्बत मिल जाने के बाद लोग Exercise और व्यायाम को कम तवज्जो देने लगते हैं. इसके अलावा वो फ़ैट और शुगर युक्त चीज़ों का ज़्यादा सेवन भी करने लगते हैं. गेस्ट्स और बच्चों के लिए आए स्नैक्स के बचे-कुचे हिस्से भी कपल्स ही खा लेते हैं.

तो अब आप जानते हैं कि मोहब्बत में कमर, कमरा क्यों होने लगती हैं? पर जो भी हो इश्क़ करने से क्या कभी कोई ख़ुद को रोक पाया है?

Source- iol

Feature Image Source- Indian Express(Only for representative purposes)