गुरुग्राम में रयान इंटरनेशनल स्कूल का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि लुधियाना के जमालपुर ब्रांच में एक स्टूडेंट की पिटाई का किस्सा सामने आया है. इंडियन एक्सप्रेस की ख़बर के मुताबिक, लुधियाना के अहाता मोहम्मद तैयार इलाके के रहने वाले जसविंदर सिंह का 10 वर्षीय बेटा मनसुख, रयान स्कूल में पढ़ता है. जसविंदर का कहना है कि गुरुवार को स्कूल में दो टीचरों ने मिल कर उनके बेटे की छड़ी से बुरी तरह से पिटाई की.

जसविंदर का कहना है कि बुधवार को स्कूल में मनसुख की किसी बच्चे से लड़ाई हुई थी, जिसके बाद टीचर ने दोनों के घरवालों को बुलाया था. गुरुवार को टीचर ने दोबारा मनसुख को बुलाया और उसकी पिटाई की. इस पिटाई के बारे में मनसुख ने भी घर पर कुछ नहीं बताया, पर कपड़े बदलते वक़्त उसकी पीठ पर पिटाई के निशान देख कर हमने उससे पूछा, तो उसने सब सच बता दिया.

जसविंदर बताते हैं कि मनसुख की गर्दन से ले कर पीठ और कमर तक पिटाई की वजह से लाल निशान बन गए हैं. उसकी पिटाई करने में फ़ीमेल टीचर के साथ मेल टीचर भी शामिल था.

जसविंदर आगे कहते हैं कि 'टीचरों ने उनके बेटे को धमकी भी दी कि अगर उसने किसी को ये बात बताई, तो वो उसे और मारेंगे.' मनसुख की सिविल हॉस्पिटल में जांच करवाई गई, जिसके बाद जमालपुर पुलिस स्टेशन में उन्होंने FIR दर्ज कराई है.

Source: indianexpress