किसी शायर ने शराब की पैरवी करते हुए कहा है कि शराब बुरी नहीं होती, इसे पीने वाले बुरे होते हैं. शराब के शबाब में डूब कर इंसान अपने होश को खोने में पल भर की देरी भी नहीं लगाता है और जब उसे देखने वाले तमाशबीन काफ़ी संख्या में हो, तो फिर बात ही कुछ और हो जाती है. दिल्ली के हौज़ ख़ास इलाके में नये साल ले जश्न के दौरान एक व्यक्ति ने कैफ़े बार में नशे में झूमते हुए बीयर की बोतल अपने सिर पर दे मारी. नशा इस क़दर हावी था कि सिर फूटने के बाद भी वो लगातार हंगामा करता रहा. पुलिस के आने पर जब उसे अस्पताल ले जाया गया, तो अधिक खून बहने के कारण उसकी मौत हो गई.

Source: newsnation

पुलिस ने इसके बाद शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया. अपनी जांच को आगे बढ़ाते हुए जब पुलिस ने बार के सीसीटीवी कैमरों की रिकॉर्डिंगस की जांच की, तो उसमें युवक हंगामा करते हुए दिखाई दे रहा है. मृतक पंजाब के लुधियाना का रहने वाला था. 30 वर्षीय इस युवक का नाम दीपक टंडन था.

Source: realcoolvideos

दीपक नये साल का जश्न मनाने के लिए पंजाब से दिल्ली आया था. 31 दिसंबर की रात को वह अपने दोस्तों के साथ हौज़ ख़ास विलेज में स्थित ईएलएफ कैफ़े एंड बार में गया था. शराब पीते-पीते दीपक अपना होश खो बैठा, उसके बाद हंगामा करने लगा. इस दौरान जोश में आकर उसने बीयर की बोतल अपने सिर पर दे मारी.

Source: ndtv

आसपास मौजूद लोगों ने उसे रोकने की काफ़ी कोशिश की, लेकिन उसे कंट्रोल में नहीं किया जा सका. इसके बाद पुलिस को फ़ोन करके बुलाया गया. जहां अस्पताल में ले जाने पर इलाज़ के दौरान उसकी मौत हो गई. पुलिस के द्वारा सूचना दिए जाने के बाद दीपक के घर वाले पंजाब से दिल्ली के लिए रवाना हो चुके थे.

Source: timeout

ख़ुशी के अनेक मौकों पर हमें जश्न मनाने के अवसर मिलते है. ऐसे मौकों पर हमें जितना हो सके नशे को अपने ऊपर हावी होने देने से बचना चाहिए. नशे की हालत में ख़ुशी को मातम में बदलने में देर नहीं लगती है.

Source: hindustantimes