कहते है कि कोशिश करते रहो, अगर जीत गए, तो इससे बड़ी खुशी नहीं और हार गए तो इससे बड़ी कोई सीख नहीं. ये लाइन जितनी आसान सुनने में लगती है, इसके मायने उतने ही कठिन हैं. क्योंकि इसमें हर किसी के आत्मविश्वास को बनाए रखने की बात कही गई है, जो अक्सर हम खो देते हैं.

लेकिन अमेरिका में रहने वाले Rafati ने कभी खुद को कमज़ोर नहीं होने दिया. हां, वो गिरे, लेकिन उन्हें संभाला उनके आत्मविश्वास ने. ये हैंडसम सा दिखने वाला चेहरा पहले नशे की लत में चूर था. हिरोइन और कोकेन ने इनकी ज़िंदगी को बर्बाद कर दिया था. नशे की लत ने इन्हें एक बार जेल भी पहुंचा दिया था.

उनके इस नशे की लत ने उन्हें एक दिन मौत के करीब पहुंचा दिया था. डॉक्टर्स ने उन्हें बड़ी मुश्किल से बचाया. एक तरह से Rafati का ये दूसरा जन्म था और पहले की गई गलतियों को उन्होंने दोहराया नहीं, बल्कि अपनी अपनी ज़िंदगी नए सिरे से शुरू की.

अपनी नई ज़िंदगी को बेहतर बनाने के लिए उन्होंने एक फ़ूड ज़्वाइंट खोला, जिसे नाम दिया है Wolverine. Rafati बताते हैं कि नशे की लत को छोड़ना आसान नहीं होता. इसके लिए आत्मविश्वास और परिवार का साथ बहुत ज़रूरी है.उन्होंने अपनी इस लाइफ़ पर किताब भी लिखी है और इस किताब का नाम दिया है 'I Forgot To Die'.

आज Rafati एक सफ़ल बिज़नेसमैन हैं. इनके पास खुद का चार्टर प्लेन है. वो अपनी इस नई ज़िंदगी से काफ़ी खुश हैं. Rafati जैसे लोग उन के लिए प्रेरणा हैं, जो खुद को नशे की लत से बाहर नहीं निकाल पाते, जिन्हें ज़िंदगी से ज़्यादा उनका नशा प्यारा होता है और यही लत उन्हें बर्बादी और दर्दनाक मौत के करीब ले जाता है.

Image Source: metro