रिलेशनशिप में रहे हर इंसान को हमेशा फ़ोन पर लगे रहने के लिए कई बार दोस्त और घरवाले सुनाते हैं. फ़ोन पर अपनी Girlfriend या Boyfriend से बात करना बुरा तो नहीं, लेकिन उससे किसी की जान बच जाएगी, ये किसी ने नहीं सोचा था.

Source: Shutterstock

दिल्ली के एक बिज़नेसमैन को कुछ गुंडों ने जब किडनैप किया, तो वो उस वक़्त फ़ोन पर अपनी Girlfriend से ही बात कर रहे थे. नितीश अरोरा अपनी अलीपुर की फै़क्ट्री से घर जा रहे थे और उसी दौरान उनकी फ़ोन पर बात हो रही थी. सिंघु बॉर्डर के पास ही कुछ लोगों ने अपनी Swift से नितीश की गाड़ी को टक्कर मारी और आगे जाकर उन्हें घेर लिया. इन गुंडों के पास हथियार थे और नितीश को गन पॉइंट पर रख उन्होंने नितीश के हाथ-पैर बांध दिए और उन्हें डिग्गी में बंद कर दिया. ये सभी बातें फ़ोन पर नितीश की गर्लफ्रेंड ने सुन ली और फ़ौरन उनके घरवालों को सारी कहानी बता दी.

घरवालों ने रोहिणी पुलिस से मदद मांगी और पुलिस को ये बताया कि नितीश की गाड़ी में GPS लगा हुआ है, यानि उसकी लोकेशन ट्रैक की जा सकती है. लोकेशन ट्रैक करने पर पुलिस वहीं पहुंची जहां वो किडनैपर्स नितीश की गाड़ी का टायर बदल रहे थे. पुलिस ने पहले उन्हें चेतावनी देते हुए Surrender करने को कहा, बदले में बदमाशों ने ओपन फ़ायर शुरू कर दी,जिसका जवाब देते हुए पुलिस ने भी गोलियां चलायीं.

पुलिस की एक गोली एक अपराधी को टांग पर लगी, वो और उसका एक साथ पकड़ा गया, जबकि एक भाग गया. इन सभी का प्लान नितीश के घर कॉल कर फ़िरौती की रकम मांगना था.

फ़िलहाल ये सलाखों के पीछे हैं और इन पर किडनैपिंग समेत, एक पुलिस सर्वेंट को अपनी ड्यूटी करने से रोकने, गैरकानूनी बंधी बनाने के तहत केस दर्ज किये जा रहे हैं.