कई लोग मानते हैं कि गर्लफ्रेंड को खुश रखना, दुनिया का सबसे मुश्किल काम है. इसके लिए आपको जो पापड़ न बेलने पड़ें, कम हैं. एक आदमी ने अपनी गर्लफ्रेंड की ज़िद के चक्कर में विमान को हाइजैक करने की संभावित कोशिश के बारे में मुंबई पुलिस को फर्जी ईमेल कर दिया.

दरअसल, 32 वर्षीय वामशी कृष्णा की गर्लफ्रेंड मुंबई और गोवा घूमने जाना चाहती थी और आरोपी के पास इसके लिए पैसे नहीं थे. उसने ये झूठा मेल इसलिए भेजा, ताकि उसकी गर्लफ्रेंड अपनी ट्रिप कैंसल कर दे.

पुलिस ने बताया कि इस आदमी ने अपनी गर्लफ्रेंड के नाम से 15 अप्रैल को ईमेल भेजा था. मुंबई पुलिस को भेजे गए मेल में कहा गया था कि उसने रविवार को छह अंजान लोगों को हैदराबाद, मुंबई और चेन्नई एयरपोर्ट से तीन विमानों को हाईजैक करने की बातचीत करते सुना है.

मुंबई पुलिस ने ये मेल को मुंबई एयरपोर्ट सिक्योरिटी ग्रुप को भेज दी, जिसके बाद वह हाईअलर्ट पर चला गया. ये ख़बर मीडिया तक भी पहुंच गयी थी. ईमेल के बाद मुंबई, चेन्नई और हैदराबाद एयरपोर्ट की सुरक्षा बढ़ा दी गई थी.

टास्फ फोर्स यूनिट के पुलिस उपायुक्त लिंबा रेड्डी ने बताया कि मेल मधुर नगर के एक साइबर कैफ़े से भेजी गयी थी. जांच के दौरान आरोपी ने बताया कि वह चेन्नई में रहने वाली अपनी गर्लफ्रेंड से चैट करता था. कुछ दिनों पहले उसकी गर्लफ्रेंड ने मुंबई और गोवा जाने का प्रस्ताव रखा था, चूंकि कृष्णा की माली हालत ख़राब थी, इसलिए उसने इनकार कर दिया, लेकिन उसकी गर्लफ्रेंड ज़िद पर अड़ी रही.
Source: Newsx

गर्लफ्रेंड ने मुंबई जाने के लिए प्लेन का टिकट बुक कराने और मुंबई में मिलने को कहा था. वामशी ने भी तुरंत उसे एक प्लेन का टिकट मुंबई के लिए भेज दिया. हालांकि, पैसे की कमी की वजह से वामशी ने जो टिकट भेजा, वो फर्जी था.

ट्रिप कैंसेल करवाने के लिए उसने एक योजना बनाई, उसने मेल भेजा ताकि हवाईअड्डों के हाई अलर्ट पर होने से उड़ानें रद्द हो जाएं और उसकी गर्लफ्रेंड ट्रिप पर न जा पाए.

बताया जा रहा है कि यह शख़्स शादीशुदा है और इसकी एक बच्ची भी है. ये पेशे से एक व्यापारी है. पुलिस ने कृष्णा के खिलाफ़ धोखाधड़ी, फर्जी दस्तावेज बनाने, गलत सूचना देने तथा सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की प्रासंगिक धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है.

Source: Intoday