हाल ही में सदी के महानायक अमिताभ बच्चन एक भूल कर बैठे, जिस कारण उन्हें ट्विटर पर काफ़ी ट्रोल भी किया गया. दरअसल, बिग बी से गलती ये हुई कि वो असली-नकली तस्वीर में फ़र्क नहीं कर पाए और दिवाली के मौके पर अमृतसर के स्वर्ण मंदिर की एक वायरल तस्वीर को रीट्वीट कर दिया.

फ़ोटो में स्वर्ण मंदिर काफ़ी ख़ूबसूरत और अद्भुत दिखाई दे रहा है. तस्वीर को देख कर ऐसा प्रतीत हो रहा है कि मानों जन्न कोई ज़मीन पर ले आया हो. मोब्बती की रौशनी से जगमग आसमान और सरोवर के चारो ओर बैठे श्रृद्धालुओं को देख कर ऐसा लग रहा कि ये पल, ये लम्हा बस यहीं रुक जाएं.

स्वर्ण मंदिर का ये नज़ारा वाकई इतना बेहतरीन है कि जो भी इसे देखेगा फ़ोटो को शेयर किए बिना नहीं रह पाएगा और यही अमिताभ बच्चन ने भी किया. बीते 21 अक्टूबर को बिग बी ने जसप्रीत नाम के शख़्स के ट्वीट को रीट्वीट करते हुए लिखा, 'ये वाकई दैवीय है'.

लेकिन जैसा कि हम सब जानते हैं कि फ़ोटो में दिखने वाली हर चीज़ रियल नहीं होती, वैसा ही कुछ तस्वीर के साथ भी हुआ. दरअसल, स्वर्ण मंदिर की इस तस्वीर को इतने बेहतरीन ढंग से फ़ोटोशॉप किया गया था कि कोई भी इंसान इसे देख धोखा जाए. साथ ही फ़ोटो को देख कर ये भी नहीं जा सकता था कि ये असली है या नकली.

हलांकि, बाद में नवकरण नामक यूज़र ने ख़ुद तस्वीर की सच्चाई का ख़ुलासा करते हुए लिखा कि 'गोल्डन टेम्पल की ये तस्वीर मैंने पिकआर्ट से एडिट की है, अगर आप लोग इस तस्वीर को शेयर कर रहे हैं, तो कृपया फ़ोटो क्रेडिट दें. ये कॉपीराइट का मामला है.

वाकई इस हाईटेक ज़माने में क्या और क्या नकली इसका अंदाज़ा लगाना काफ़ी मुश्किल हो गया है. आम इंसान तो आम इंसान सेलिब्रिटी भी रियल और फ़ेक फ़ोटो में फ़र्क नहीं कर पाए. ख़ैर बिग बी कोई बात नहीं बड़े-बड़े लोगों से कभी-कभी छोटी-छोटी ग़लतियां हो जाती, पर आगे से कोई भी चीज़ शेयर करने से पहले अच्छी तरह जांच परख लीजिएगा.

Source : timesnownews