फ़ीफ़ा वर्ल्ड कप 2018 की शुरुआत हो चुकी है. इस प्रतियोगिता में भले ही इंडियन टीम हिस्सा न ले रही हो, मगर हम भारतीयों में भी इसका खु़मार कुछ कम नहीं. चलिए आपको एक ऐसे ही फ़ुटबॉल प्रेमी से मिलवाते हैं, जो अपनी साइकिल पर फ़ीफ़ा का मैच देखने रूस पहुंच गए.

हम बात कर रहे हैं Clifin Francis जो केरल के रहने वाले हैं. वो फ़िलहाल रूस के बॉर्डर पर पहुंच गए हैं. यहां से उन्हें मास्को पहुंचना है, जो 600 किलोमीटर दूर है. 28 वर्षीय Clifin ने अपनी इस ट्रिप की शुरुआत 23 फरवरी से की थी. वो केरल से फ़्लाइट के ज़रिये दुबई पहुंचे और यहां एक साइकिल ख़रीदी. साइकिल पर सवार होकर वो यूएई ईरान और अज़रबैजान होते हुए रूस पहुंचे.

World Cup Fan Id देखने के बाद के बाद मिली रूस में एंट्री

बॉर्डर पर तैनात रूसी अधिकारियों को पहले तो Clifin की बातों पर यकीन नहीं हुआ. मगर बाद में World Cup Fan Id देखने के बाद उन्हें रूस में दाखिल होने दिया गया.

Clifin ने B.Tech किया है और वो कोच्ची के एक स्कूल में गणित पढ़ाते हैं. उनके चाचा Xavier A J ने बताया कि, ‘Clifin को बचपन से ही साइकिल से सफ़र करने का शौक है. वो कई बार कोच्ची से अपने गांव साइकिल पर ही आया है.

Messi के हैं ज़बर फ़ैन

Source: Indiatimes

‘बचपन से ही मैं फुटबॉल का दिवाना रहा हूं और मेरी फ़ेवरेट टीम अर्जेंटीना है. मेरा सपना था कि मैं फ़ीफ़ा वर्ल्ड कप देखूं. लेकिन अपने देश से किसी दूसरे देश में जाना बहुत ही मंहगा होता है, इसलिए मैंने साइकिल से ट्रैवल करने का फै़सला किया. मैं फ़्रांस और डेनमार्क के बीच होने वाले एक ग्रुप मैच को देखने वाला हूं. इसके बाद मैं कुछ दिन रूस में बिताऊंगा और फिर साइकिल पर ही वापस केरल जाऊंगा. मेरी दिली तमन्ना है कि मैं अपनी साइकिल पर Messi का ऑटोग्राफ़ लूं. उम्मीद है मैं समय से पहले वहां पहुंच जाऊंगा.'

वैसे Clifin के अलावा भी अपने देश में एक बढ़कर एक फ़ुटबॉल प्रेमी देखने को मिल जाएंगे. इनमें से किसी ने अपनी टीम की जीत के लिए फ़ास्ट रखा है, तो किसी ने अपनी फ़ेवरेट टीम की जर्सी के रंग में ही अपने घर को रंग दिया है.

Source: Thequint