महिलाओं से जुड़ी अपराध की ख़बरों के बीच महिला सशक्तिकरण की एक अच्छी ख़बर आयी है सेंट्रल रेलवे से. माटुंगा स्टेशन पूरी तरह महिलाओं के स्टाफ़ द्वारा चलाया जाने वाला पहला रेलवे स्टेशन बन गया है. इस स्टेशन का नाम लिम्का बुक ऑफ़ रिकॉर्ड्स 2018 में दर्ज किया जा रहा है.

रेलवे अधिकारी ने बताया कि माटुंगा स्टेशन में 6 महीने पहले All-Woman स्टाफ़ रखा गया था. इसका श्रेय सेंट्रल रेलवे जनरल मैनेजर डी.के. शर्मा को दिया जाना चाहिए. उन्होंने ही महिला सशक्तिकरण की ये पहल की थी.

जुलाई 2017 से यहां केवल महिलाएं काम कर रही हैं. 41 महिलाओं की टीम में RPF की महिलाएं भी शामिल हैं. स्टेशन मैनेजर ममता कुलकर्णी इस टीम की हेड हैं.

महिलाओं द्वारा स्टेशन चलाये जाने से परिणाम भी बेहतर हुए हैं और काम करने के लिए अच्छा वातावरण बना है.

Source: Hindustantimes